अविनाश वाचस्‍पति को सजाए फांसी के उपलक्ष में जोकसभा का आयोजन

इस तरह की पोस्‍टों को पसंद करना
टिप्‍पणी करना अनिवार्य है
वरना
अविनाश वाचस्‍पति की आत्‍मा
आपको तंग करेगी
आत्‍मा की शांति के लिए
पोस्‍ट को लाइक करना
और
उस पर कमेंट डालना
बनता है
पता नहीं
संता कहां है
पता चला है
कि अपना कमेंट
ई वी एस के जरिए
डालने गया है

आप भी डाल सकते हैं
शांति की चाह में
हिंदी ब्‍लॉग जगत की राह में
कमेंट
जिसमें बसते हैं
इंटरनेट के प्राण। 
#‪#‎शोकसभा
कुख्‍यात हिंदी ब्‍लॉगर
अविनाश वाचस्‍पति को
सजाए फांसी के उपरांत
श्‍मशानघाट निगम बोध घाट में
रात्रि 12 बजे
एक विशाल शोकसभा का
आयोजन किया गया है

आप इसमें शामिल होकर
अवश्‍य कृतार्थ हों
अपने अपने संस्‍मरण
लिखकर लाएं और 
जो न सुना पाएं
उसे वहां पर मौजूद
पत्र पेटी में जमा करवाएं
मौका मत चूकिएगा
सिर्फ पैदल 
शामिल होइयेगा
वाहन पाकिंग की सुविधा
महंगी होने के कारण
वापिस ले ली गई है

आप अपने हर्जे खर्चे के
जिम्‍मेदार स्‍वयं होंगे
जो संस्‍मरण सुनायंगे
नकद पांच हजार प्रति
संस्‍मरण भुगतान पाएंगे
बतलाइयेगा अब आप
कि आयेंगे 
या नहीं आयेंगे। 



3 टिप्‍पणियां:

  1. काहे इतना बड़ा
    झूठ बोल कर
    हमे बहका रहे हो
    कौन पागल हो गया है
    जिसने एक ब्लागर को
    फाँसी देने की बात
    सोच भी दी गलती से
    उसकी फोटो काहे
    अपनी फोटो के साथ
    चिपका रहे हो
    सबसे निकृष्ठ जीव
    लेखक होता है
    किसी भी समझदार की
    नजर में एक बेवकूफ होता है
    क्या ऊपर कहीं से किसी
    एलियन को पृथ्वी पर
    इस काम को करने के लिये
    तो नहीं ला रहे हो
    मौज में रहो पिओ खाओ
    अभी 100 साल तक
    तुम मरने नहीं जा रहे हो ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपका ब्लाग तेताला नहीं खुल रहा है । पेज खुलते ही दूसरा पेज http://neocounter.neoworx-blog-tools.net/ खुल रहा है टिप्प्णी नहीं हो पा रही है वैसे तीन जगह टिप्प्णी दी जा चुकी है । 15000/- भेज दीजिये ।

    उत्तर देंहटाएं

आपके आने के लिए धन्यवाद
लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

 
Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz