आइसक्रीम का रेट, प्रेस में खूब बखाने

Posted on
  • by
  • रविकर
  • in
  • आइस मिलती फ्री में, चिदंबरम को रोज ।
    व्हिस्की का पैसा लगे, दो हजार का भोज । 
    दो हजार का भोज, गरीबी वो क्या जानें ।
    आइसक्रीम का रेट, प्रेस में खूब बखाने ।
    पानी बोतल अगर, गरीबी पी पंद्रह में ।
    राशन कैसे आय, बताओ फिर सत्तरह में ??

    7 टिप्‍पणियां:

    1. अविनाश जी को पता नहीं है क्या?

      उत्तर देंहटाएं
    2. जबरदस्त पारी खेली है भाई रविकर जी. बधाई.

      उत्तर देंहटाएं
    3. ...खूब मज़ाक उडाया चिदंबरम ने..गरीबी का और गरीबों का भी!...वे कहते है, आम आदमी अमीरों की नक़ल क्यों उतार रहा है?...उसे कभी आइसक्रीम या स्वच्छ बोतलबंद पानी के उपर खर्चा नहीं करना चाहिए!

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz