लो अब पढ़ने से भी पीछा छूटा


मोबाइल फ़ोन के जहां अपने फ़ायदे हैं वहीं इसकी अपनी कुछ सीमाएं भी हैं. मोबाइल आज संगीत सुनने के साथ-साथ पढ़ने के माध्यम के रूप में ही बहुत तेज़ी से उभर रहा है. लेकिन, पढ़ने के लिए यह अभी बहुत अच्छा साधन नहीं माना जा रहा क्योंकि एक तो इसके स्क्रीन-साइज़ की अपनी सीमाएं हैं तो दूसरी ओर चलते-फिरते इस पर कुछ भी पढ़ पाना आसान काम नहीं है.

“कूल-रीडर” विंडोज़, लीनक्स व एंड्रायड तीनों ही प्लेटफ़ार्म पर चलने वाला एक ओपन सोर्स सोफ़्टवेयर है जो साइज़ में ही छोटा नहीं है बल्कि अभी तक मेरे प्रयोग किए गए सभी प्रोग्रामों में सबसे बढ़िया है.

epub (non-DRM), fb2, txt, rtf, html, chm, tcr, doc, pdb जैसे कई फ़ार्मेट को ये पढ़ कर सुना सकता है. आपको बस करना ये है कि जो फ़ाइल आप इसके द्बारा पढ़वाना चाहते हैं उसे उपरोक्त किसी भी फ़ार्मेट में डाउनलोड या कन्वर्ट कर इसे पढ़ने के काम पर लगा दें. फिर आप चाहे उसे मोबाइल के स्पीकर पर सुनें या हैडफ़ोन से, यह आपकी सुविधा है.

 00000

1 टिप्पणी:

  1. लेकिन महाशय यह तो बतलाइये कि कार्टून को बिना देखे सिर्फ सुनकर कैसे आनंद ले पाएंगे

    उत्तर देंहटाएं

आपके आने के लिए धन्यवाद
लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

 
Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz