ए पॉजीटिव ग्रुप का ब्‍लड चाहिए : इच्‍छुक दाता संपर्क करें

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels:
  • आप सुभाष नीरव से परिचित हैं
    न भी हों परिचित
    तो अंतर नहीं पड़ता
    वैसे नुक्‍कड़ के सह-लेखक भी हैं

    मुराद नगर में रह रहीं सुभाष नीरव की चाचीजी किडनी में समस्‍या के कारण नरेन्‍द्र मोहन अस्‍पताल, मोहन नगर के आई सी यू में भर्ती हैं। सभी कल से ए पॉजीटिव ग्रुप के ब्‍लड की प्राप्ति के लिए प्रयासरत हैं। बीती रात को इसी प्रयास के चलते मोटरसाईकिल पर उनकी चाचीजी के पुत्र को दुर्घटना में पैर में गंभीर चोट आई है। इसे कहते हैं कि परेशानी अकेले नहीं आती है। लेकिन कितनी ही हों परेशानी, मनुष्‍य की जीवंतता को खत्‍म नहीं कर सकतीं।

    आसपास स्थित वे साथी जिनका ब्‍लड ग्रुप ए पॉजीटिव हो और वे शारीरिक तौर पर समर्थ होने के साथ ही रक्‍तदान के लिए इच्‍छुक भी हों, सुभाष भाई से उनके मोबाइल फोन नंबर 98105 34373 पर तुरंत संपर्क कर लें।

    अभी दस मिनिट पहले स्‍वयं सुभाष भाई ने फोन पर स्‍वयं मुझे सूचित किया है।

    18 टिप्‍पणियां:

    1. शीघ्र स्वास्थय लाभ की शुभकामनाएँ प्रेषित कर रहा हूँ आपके माध्यम से.

      उत्तर देंहटाएं
    2. शीघ्र स्वास्थय लाभ की शुभकामनाएँ

      aur aap ka prayaas safal ho
      saarthal bloging kaa ek namuna haen yae post

      उत्तर देंहटाएं
    3. Apna Blod Group to B+ hai, aur har teen se char mahine par donate bhi karta hun, jab kisi ko chahiye bata dijiye ga.

      Main Bhagwan se prathana karta hun ki Neerav Ji ki Chachi ji jaldi se thik ho jayen.

      उत्तर देंहटाएं
    4. मै मोहन नगर हास्पिटल के पीछे ही रहता हूँ ... मेरा ब्लड ग्रुप AB+ है अगर बदल कर वांछित ब्लड मिल जाए तो मै ब्लड देने को तैयार् हूँ... वैसे मुझे इस ब्लॉग पर पहुँचने में देर लगी वरना मै अभी तक मिल लेता उन लोगों से ... फिलहाल मै मिलता हूँ यथा शीघ्र

      उत्तर देंहटाएं
    5. आपसे अनुरोध है कि सुभाष नीरव जी की चाची का नाम भी लिख दें ... मै आईसीयू में मिलता हूँ

      उत्तर देंहटाएं
    6. अविनाश जी बहुत अच्छा काम कर रहे है आप,सुभाष नीरव जी चिंता ना करे आप को खुन भी मिल जायेगा, ओर आप की चाची जी जल्द ही ठीक भी हो जायेगी, हमारी शुभकामनाये

      उत्तर देंहटाएं
    7. Mera Blood Group A+ hai, har 4 mahinepar blood donate bhi karti hoon, Jaipur me malviya nagar side me hoon filhaal... kabhi kisi ko jaroorat pade to mujhe jaroor bataayein

      उत्तर देंहटाएं
    8. pls contact me on 9716269985. Mera Blodd Group A+ hai. I am willing to donate.

      उत्तर देंहटाएं
    9. आईसीयू में हो कर आया हूँ अभी अभी ... चाची जी सो रही थीं ...आक्सीजन हटाया जा चुका था ... ब्लड के इन्जाम के लिए सब लोग दिल्ली गुरतेगबहादुर अस्पताल जा चुके थे इस लिए मैं नहीं जा पाया ... फिलहाल गुरतेग बहादुर में प्लेटलेट मशीन खराब है ... चाचीजी के पुत्र जुगल जी के पैर में पट्टी बंधी है फिलहाल ठीक हैं

      उत्तर देंहटाएं
    10. मेरी सुभाष भाई से पहले बात हुई थी, वे सब रेडक्रास, संसद मार्ग जा रहे थे। एक रक्‍तदाता भी उनके साथ ही हैं।

      उत्तर देंहटाएं
    11. मेरा ब्लड ग्रुप AB+ है,लेकिन इतनी दुर बैठकर हम सिर्फ़ उनके स्वास्थ्य लाभ की ही कामना कर सकते हैं।

      उत्तर देंहटाएं
    12. अभी सुभाष भाई से बात हुई है और वे जल्‍दी ही आज दिन की व्‍यस्‍तता, परेशानी और अनुभव का विवरण देंगे जिससे जरूरत पड़ने इस प्रक्रिया की जानकारी जरूरतमंदों के काम आ सके। इस समय इस संबंध में गाजियाबाद के यशोदा अस्‍पताल में सुभाष जी के भाई हैं। वहां से अद्यतन होते ही वे जानकारी ले कर हाजिर हो रहे हैं। वे आवश्‍यकता पड़ने पर काम आ सकने वाले कुछ जरूरी फोन नंबर भी देने वाले हैं।

      उत्तर देंहटाएं
    13. अविनाश भाई ,आप का यह ब्लॉग एक सहारा और साधन के रूप में उभरता बजा रहा है ,जिसके पीछे आप की सकारात्मक सोच और कड़ी मेहनत है.अभी कुछ देर पहले सुभाष नीरव से फोन पर घंटे भर की बात हुई..इंसानियत और आदमी की संवेदनाएं इस माहोल में भी कितनी बची हुई हैं .यह सुखद है .बिना किसी पूर्व परिचय के जो रक्त दाता सामने आये ,प्रणम्य हैं

      उत्तर देंहटाएं
    14. खेद जनक है कि अभी तक ब्लड का इंतजाम नहीं हो पाया है ... मेरा ब्लड .AB+ होने के कारण लेने से मना कर दिया ... फिलहाल अभी सब यशोदा में ही हैं

      उत्तर देंहटाएं
    15. अविनाश जी, सब साथ हैं तो सब कुछ ठीक हो जायेगा. इश्व्वर करें सुभाष जी इस गम्भीर समय से अपनी चाची जी को स्वस्थ और प्रसन्न बाहर निकालने में कामयाब हों. मेरी शुभकामनाएं

      उत्तर देंहटाएं
    16. mera bloodgroup a+ hai..parantu mai bahut door hun...Bhagwan se unke jaldi theek hone ki prarthana karti hun..

      उत्तर देंहटाएं
    17. उड़न तश्तरी जी, रचना जी, तार्केश्वर जी, पदम सिंह जी, राज भाटिया जी, गरिमा जी,मनुदीप यदुवंशी जी, ललित जी, सुरेश यादव जी,डा0 सुभाष राय जी, अनिता सक्सेना जी… मैं आपका सबका हृदय से आभारी हूँ कि आपने मेरे परिवार के दुख को अपना समझा और अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की। उन सब का भी बेहद आभारी हूँ जिन्होंने अपना रक्त देने की इच्छा व्यक्त की। पदमेश जी आपका बहुत बहुत धन्यवाद कि आपने न केवल फोन पर बार बार बात कीम बल्कि अस्पताल मे आप मेरी आदरणीया चाची जी को मिलने भी गए, वहां उपस्थित मेरे परिवारजनों को आपने इस दुख की घड़ी में सांत्वना दी, उनका ढाढ़स भी बढ़ाया। भाई सुरेश यादव जो निरंतर फोन पर संपर्क बनाये रहे, हर पल की खबर लेते रहे,मेरे अन्दर हिम्मत न हारने की प्रेरणा देते रहे। और अविनाश भाई ! तुमने तो कमाल कर दिया ! मैंने 3 सितम्बर की सुबह साढ़े छह बजे तुमसे बात की और तुमने अगले दस मिनट में यह सूचना पोस्ट भी कर दी। अस्पताल में रहने के कारण मैं नेट नहीं देख सका और जब घर पर देखने का अवसर मिला तो नेट नाराज मिला। खैर, आप सबकी दुआओं का ही असर रहा कि एक फरिश्ते के रूप में हमें गाजियाबाद निवासी नंद किशोर जी मिल गए। कथाकार बलराम अग्रवाल जी से जब मैंने अपनी परेशानी शेयर की तो उन्होंने तुरन्त अपने भाई नंदकिशोर जी से संपर्क किया जिनका ब्लड ग्रुप ए पोजिटिव है। और नंद किशोर जी तुरन्त सहर्ष तैयार हो गए। फोन पर बोले- मैं यशोदा अस्पताल के पास ही रहता हूँ, जब कहोगे मैं पहुंच जाऊँगा। और 4 सितम्बर को सुबह साढ़े दस बजे से दोपहर ढाई बजे तक वह हमारे संग यशोदा अस्पताल में रहे। आठ राउंड में लिए गए रक्त में से मशीन द्वारा जब अपेक्षित प्लैटलेट्स का जम्बो पैक हमारे हमारे हाथ में था तो हमारी आँखों में खुशी के आंसू थे और हमारा माथा बार बार इस फ़रिश्ते के आगे झुक झुक जा रहा था। प्लैटलेट्स मेरी चाची जी को चढ़ाया जा चुका है और अब वे पहले से बहुत बेहतर हैं। आज इस टिप्पणी के लिखे जाने तक वे आई सी यू में ही हैं, पर डाक्टर्स के अनुसार उनकी स्थिति में काफ़ी सुधार है। मेरा पूरा परिवार नंदकिशोर जी का ॠणी है। उन्होंने जो निस्वार्थ सेवा की है वह अतुल्य है, पूज्यनीय है। मैं अभी इतना ही इस टिप्पणी में दे रहा हूँ क्योंकि मेरे पास अभी समय का अभाव है, नेट पर अधिक नहीं बैठ पा रहा हू, परन्तु मैं इस सारे घटना क्रम पर अलग से अपने ब्लॉग सृजनयात्रा पर जल्द ही विस्तार से लिखूंगा। एक बार पुन: आप सभी का आभार !
      सुभाष नीरव

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz