शालीमार बाग में दिल्‍ली ब्‍लॉगर मिलन के चित्र और संक्षिप्‍त समाचार

***राजीव तनेजा***

100_2682

चित्र में बाएं से दाएं : संजू तनेजा,शशि सिंहल,अविनाश वाचस्पति,बागी चाचा,एम.वर्मा,राजीव तनेजा,अलबेला खत्री,प्रवीण शुक्ल ‘प्रार्थी,कनिष्क कश्यप और पवन चन्दन

कुछ दिन पहले अलबेला खत्री जी के ब्लॉग पर खबर पढ़ने को मिली कि किसी कार्यक्रम के सिलसिले में वो दो दिन के लिए दिल्ली आ रहे हैं|बस!…फिर क्या था जनाब……उनसे मिलने की तमन्ना दिल में जाग उठी| आनन-फानन में अविनाश वाचस्पति जी को फोन लगाया और उन्हें सारी बात बताई| तय हुआ कि मिलने के स्थान का इंतजाम करने के लिए अजय झा जी को कहा जाए…क्योंकि लगातार दो बार मीटिंग करवा कर वो इस काम में सिद्धहस्त हो चुके हैं| अविनाश जी के जिम्मे इस काम को लगाने के बाद मैं निश्चिन्त हो कर चादर तान कर सो गया …चादर तान के इसलिए कि रजाई ओढने का मौसम तो कुछ दिन पहले ही दिवंगत हो चुका था….बाद में अजय जी से फोन पर हुई बातचीत में पता चला कि उस स्थान का मिलना संभव नहीं है…तो तय हुआ कि अलबेला जी से मिलने के इच्छुक ब्लोगर उनसे हमारे घर शालीमार बाग में ही मिल लें|

इससे आगे की रिपोर्ट तो मैं आपके समक्ष बाद में पेश करूँगा …पहले आप अविनाश वाचस्पति जी द्वारा आनन-फानन में जारी की गई इस तुरत-फुरत रिपोर्ट को पढ़ लें

***अविनाश वाचस्पति***

आज शनिवार दिनांक 27 मार्च 2010 की प्रात: 11 बजे शालीमार बाग में आयोजित ब्‍लॉगर मिलन संगोष्‍ठी में मौजूद रहे।
सर्वश्री/ राजीव तनेजा, संजू तनेजा, अलबेला खत्री, अविनाश वाचस्‍पति, कनिष्‍क कश्‍यप, पवन चंदन, इरफान, एम. वर्मा, बागी चाचा, शशि सिंहल, सतीश सक्‍सेना, खुशदीप सहगल, विनोद कुमार पांडेय और प्रवीण शुक्ल ‘प्रार्थी' | बैठक के मध्‍य डॉ. टी एस दराल, सुश्री प्रतिभा कुशवाहा की फोन काल प्राप्‍त हुईं। सबने अपनी अपनी रचनाएं भी सुनाईं। कई योजनाओं पर विस्‍तार पर चर्चा हुई। श्री कनिष्‍क कश्‍यप ने 25 मार्च 2010 से लांच हुए प्रहरी लाइव चैनल की संपूर्ण जानकारी दी। श्री अजय कुमार झा मेट्रो तक पहुंच गए थे परंतु उनके कार्यालय से फोन आने पर उन्‍हें वहीं से लौटने को विवश होना पड़ा। इस अवसर पर सामान्‍य जलपान, शीतल, गर्म पेयों से शुरू हुआ सफर गरमागर्म पकौड़ों, मिठाइयों से होता हुआ गरमागर्म पूरियों, पनीर की सब्‍जी, आलू टमाटर रसेदार, दही रायता, सलाद और फिर चाय पर पहुंच कर संपूर्णता पर संपन्‍न हुई सांय 4 बजे। इनके चित्र और विस्‍तृत रिपोर्ट आपको शीघ्र ही मिलेगी राजीव तनेजा जी और उनकी सक्रिय टीम के ब्‍लॉग पर।

Image(412)

Image(413)

Image(414)

Image(415)

Image(416)

कार्टूनिस्ट इरफ़ान और बागी चाचा

Image(417)

23 टिप्‍पणियां:

  1. ji bhut badhiya rahi mulakaat aur ap to bhut fast nikle taneja ji
    saadar
    praveen pathik
    9971969084

    उत्तर देंहटाएं
  2. गुपचुप ढंग से आप लोगों ने एक ब्‍लॉगर मीट भी कर ली .. आपलोगों को बधाई !!

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर रिपोर्ट त्वरित
    शुक्र है मै भी पहुँच गया था.

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह राजीव जी आप तो फास्ट नही सुपर फास्ट निकले इतने जल्द रिपोर्ट तैयार कर दी आपने तो..बढ़िया आप सब से मिल कर बहुत अच्छा लगा बस प्यार और आशीर्वाद का यह सिलसिला ऐसे ही चलता रहे..और हाँ राजीव जी मैं संजू भाभी का भी बहुत बहुत आभार व्यक्त करना चाहूँगा हर मिनट पर नाश्ता,चाय, और बाद में भोजन सब कुछ का इंतज़ाम उन्होने इतने बढ़िया ढंग से व्यवस्थित किया था कि इस ब्लॉगर मीटिंग में तो आधा देर तक खाना पीना ही चलता रहा...राजीव भैया और संजू भाई दोनों का बहुत बहुत आभार इस कार्यक्रम को सफल बनाने में..

    उत्तर देंहटाएं
  5. क्षमा करें.. संजू भाभी की जगह संजू भाई टाइप हो गया..

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत-बहुत आभार रिपोर्ट और सुन्दर चित्रों के लिए.. पता होता तो मैं भी मन से उपस्थिति दर्ज कराता.. फोन तो कर ही लेता ना भाई.. :)

    उत्तर देंहटाएं
  7. हम इस मीटिंग नहीं आ पाए इसका मलाल रहेगा | फिर भी राजीव तनेजा जी से व अलबेला खत्री जी से फोन पर हुई बात से खुश है |

    उत्तर देंहटाएं
  8. ओह ये मुई सरकारी नौकरी जो न करवाए ...आज फ़िर से कार्यलयीय मजबूरियों ने मुझे विवश कर दिया कि मैं आप सबके बीच अनुपस्थित रहा ..अलबेला भाई से मिलने का संयोग शायद अभी बना नहीं है ....
    संजू भाभी के हाथों का लज़ीज़ भोजन तो कभी भी चट करने पहुंच जाएंगे ...आप लोगों को बहुत बहुत बधाई ...

    अरे काहे की बधाई ..मेरा दिल जल रहा है नहीं पहुंच पाने पर ..हा हा हा ..ये थी दिल की बात तो

    अजय कुमार झा

    उत्तर देंहटाएं
  9. इस मीट के लिए बहुत बहुत बधाई। मुझे लगता है कि फ़ोटो में कौन कौन है अगर उनके नाम भी बताये जाते फ़ोटो के नीचे तो अच्छा रहता। नाम से तो हम सबको पहचानते हैं लेकिन चेहरे और नाम का मेल नहीं कर पा रहे, या फ़िर सभी ब्लोगर मित्रों के अलग अलग फ़ोटो (उनके नाम के) साथ भी होते ग्रुप फ़ोटो के साथ साथ तो अच्छा रहता

    उत्तर देंहटाएं
  10. ये तो बढ़िया मीट हो गई भाई..

    उत्तर देंहटाएं
  11. is meeting me swaad bharne ka saara shrey sanju taneja ko jaata hai...kyun?

    उत्तर देंहटाएं
  12. खाना तो वाकई स्वादिष्ट लग रहा है ... मीट भी वैसी ही होगी...

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत सुंदर जी सभी चित्र बहुत अच्छे लगे, ओर खाने का पढ कर मुंह मै पानी आ गया

    उत्तर देंहटाएं
  14. आनंद आ गया

    क्या करें? बस यहीं बैठे बैठे आपका साथ अनुभव कर लेते हैं :-)

    बी एस पाबला

    उत्तर देंहटाएं
  15. राजीव भाई !
    जो प्यार और स्नेह आपने और श्रीमती संजू तनेजा ने दिया उसका हार्दिक आभार ! बेहद उपयोगी मीटिंग रही आज की ! अविनाश जी , अलबेला खत्री और आप खुद के होते हुए किसी के बोर होने का तो सवाल ही नहीं पैदा होता ४ घंटे महसूस ही नहीं हुए !
    मगर स्नेह का सारा श्रेय केवल संजू तनेजा को दिया जाएगा !!
    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  16. वाह जी!!! इस बार भी शानदार ब्लोग्गर मिलन ..... सबने संजू भाभी के हाथ के बने स्वादिष्ट खाने का खूब स्वाद लिया होगा!!! हम भी बुलाये गये थे!!! घर के कार्य के कारण नहीं आ सके, अगली बार जरुर हाज़िर होंगे

    सभी को शानदार ब्लोग्गर मिलन के लिए ढेर सारी बधाई

    राजीव भाई और संजू भाभी को शानदार ब्लोग्गर मिलन आयोजित करने पर बहुत बहुत धन्यवाद्

    उत्तर देंहटाएं
  17. अच्छा लगा जानकर कि आप सब लोग मिल बैठे.

    उत्तर देंहटाएं
  18. ब्लोगर मिलन होते रहें
    कारवां यूँ ही बढ़ता रहे ।

    न आ पाने का दुःख है , लेकिन अलबेला जी से बात करके अच्छा लगा ।
    बधाई आप सबको ।

    उत्तर देंहटाएं
  19. बहुत सुन्दर रिपोर्ट।आपलोगों को बधाई !!

    उत्तर देंहटाएं
  20. वाह राजीव जी आप तो फास्ट नही सुपर फास्ट निकले इतने जल्द रिपोर्ट तैयार कर दी आपने तो..बढ़िया आप सब से मिल कर बहुत अच्छा लगा बस प्यार और आशीर्वाद का यह सिलसिला ऐसे ही चलता रहे..और हाँ राजीव जी मैं संजू भाभी का भी बहुत बहुत आभार व्यक्त करना चाहूँगा

    उत्तर देंहटाएं
  21. वाह जी वाह , बहुत अच्छी रही यह ब्लॉगर मीट । हमे पता नही चला वरना कोशिश करके हाज़िर होते । खासकर तब जब दिन रविवार था । खैर अगली बार सही ।

    रेपोर्ट फोटो सब अच्छे हैं , जरा नाम भी साथ मे दे दें तो अच्छा रहेगा ।

    तारीख २७ मार्च होनी चाहिए , अविनाश जी प्लीज एडिट कर के सुधार दीजिए ।

    धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  22. विजय जी। आप विजयी हुए। बाकी सब तो यूं ही पढ़ते चले गए। लिखने वाले को भी होश नहीं रहा। खैर ... विजयश्री तो विजय जी को ही मिलनी थी। आप दिल्‍ली में ही हैं। जानकर अच्‍छा लगा। अपना नंबर और पता मेरी मेल पर भेज दीजिएगा। आभारी रहूंगा।
    गलती सुधार दी गई है। उसके लिए निवेदन नहीं आदेश करना चाहिए था। आपके निवेदन को आदेश रूप में ग्रहण किया और पढ़ते ही सुधार दिया।

    उत्तर देंहटाएं

आपके आने के लिए धन्यवाद
लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

 
Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz