दिल्‍ली में आज मिलेंगे ब्‍लॉगर, पाठक, साहित्‍यकार और पत्रकार : जिन्‍हें चाहिये खबर वे भी अवश्‍य आयें (अविनाश वाचस्‍पति)

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels:
  • दिल्‍ली में
    ब्‍लॉगर्स मीट कल
    पर वो होगी आज
    भ्रमित मत हों
    कल आज ही बनता है
    इसी पर वर्तमान का
    तंबू तनता है।

    मिलना तो है दो बजे से
    पर मिलेंगे ग्‍यारह बजे भी
    यह दो-दो बार मिलना
    ऐसे लगेगा जैसे
    मिल रहे हों हजार बार।

    मैं तो अवश्‍य पहुंचूंगा
    ग्‍यारह बजे ही
    क्‍योंकि न जाने
    किससे क्‍या सीखने को
    वहीं पर मिल जाए।

    तकनीक कोई हमारे
    दिमाग में घुस जाए
    कि कैसे लिखा जाता है
    बढि़या, सिर्फ बढि़या ही नहीं
    बेहतर भी
    बदतर की हो जानकारी
    तो उससे बचना ही
    बेहतर की ओर बढ़ना है।

    इसलिए घर से निकलना है ऐसे
    कि पहुंच जाएं हम ग्‍यारह बजे
    जैसे तैसे और सीख जाएं हम भी
    वैसे सर्दी कड़ाके की है
    पर सीखने की गर्मी
    का करेगा कौन मुकाबला ?

    वैसे विनीत कुमार ने लिखा है
    आज दिल्‍ली में है ब्‍लॉगर्स मीट
    सिर्फ ब्‍लॉगर्स ही नहीं आयेंगे
    तो यह अर्थ मत निकालिये
    ब्‍लॉगर्स नहीं आयेंगे
    इसका सीधा मतलब है कि
    वे तो जरूर आयेंगे
    आयेंगे वे भी
    जिनका सीधा नाता नहीं है
    ब्‍लॉग जगत से।

    अब ये टेढ़े संबंध वाले
    सीधे ही होते होंगे
    हम पहुंचेंगे तो
    हम भी जान जायेंगे
    किसी को जानना
    पहचानना एक पूरी प्रक्रिया
    से
    गुजरना होता है
    लगता है थोड़े से ही सही
    आंशिक रूप से हम भी
    वहां पर गुजर ही जायेंगे।

    आप भी आइये
    हम तो आपसे
    मिलने वहां पर आयेंगे
    आपको वहां नहीं पायेंगे
    तो उदास हो जायेंगे
    इसलिए आप मत होइये
    मजबूरी के दास।

    इस बारे में अधिक जानकारी के लिए
    ravikant@sarai.net पर संपर्क करें
    पर रविकांत जी ने अपना मोबाइल नंबर
    दिया होता तो अच्‍छा होता
    भला भटकेंगे जो
    वो फोन करके ही तो
    ले पायेंगे जानकारी
    उस समय मेल कहां से भेजेंगे
    और कहां पर बांच पायेंगे।

    रविकांत जी अपना नंबर टिप्‍पणी में दे दें
    तो जरूर लाभ होगा
    दूरसंचार कंपनियों का ही सही
    पर भटकने वाला भी
    बेअटके पहुंच जाएगा।

    फिर भी जो भटक जाएं रास्‍ता
    वे नंबर मिलायें पर आहिस्‍ता
    9811853307

    16 टिप्‍पणियां:

    1. एक अच्छी मुलाकात के लिए सभी को शुभकामनाएँ।

      उत्तर देंहटाएं
    2. खूब मिलो, बहुतो से मिलो
      कामना है यही दिल से मिलो
      दिमाग तो नौकर है
      कहोगे तो मिल ही लेगा
      नये साल मे नयी बात हो
      चर्चा हो बहस नही हो
      जेन्डर भेद की बात नही हो
      कोई किसी को ना उकसाये
      कोइ किसी पे ना गरियाये
      ब्लोगर मीट खूब सफ़ल हो
      मेरी तरफ़ से शुभकामना लो

      उत्तर देंहटाएं
    3. kuch jaruri kaam aa gaya bas man maar ke rahana padega anyatha ham to pakka aate..chcha ji aap sammelan ki report de dijiyega ..hamari shubhkaamnaye hai blogar meeting aur yah silsila hamesha chalata rahe aur prem parspar bana rahe...badhiya aur sarahniy karya...jaankari ke liye bahut bahut dhanywaad

      उत्तर देंहटाएं
    4. इस उम्मीद से कि कुछ लोग रास्ता भूल या भटक जाएंगे उनके लिए ये नंबर काम आएगा- 9811853307

      उत्तर देंहटाएं
    5. अजय कुमार झा
      और
      सुशील कुमार छौक्‍कर
      भी पहुंच रहे हैं वहां
      मीट मिलेगा जहां
      वैसे हम तो
      करेंगे मिलन ही
      शाकाहारी जो हैं।

      उत्तर देंहटाएं
    6. मिल ही लें,मिलना उत्तम, मिलने से ही वो मिलता.
      जिससे मिलने की चाहत में, मनवा सबका खिलता.
      मनवा खिल जाता है, उसकी एक झलक से यारों.
      बस उससे मिलने की राहें,मिलकर बैठ विचारो.
      कह साधक, वो मिल जाये तो हमें भी लिख दें.
      मिलने से ही वो मिलता, मिलना उत्तम, मिल ही लें

      उत्तर देंहटाएं
    7. भई सभी ब्लागरों को शुभकामनाएं! भारी संख्या में पहुंचकर इसे सफल बनाएं !

      उत्तर देंहटाएं
    8. आप की रिपोर्ट का इंतजार रहेगा। हरि शर्मा जी की बात से हम भी सहमत

      उत्तर देंहटाएं
    9. सभी ब्लागरों को शुभकामनाएँ।

      उत्तर देंहटाएं
    10. SHUBHKAMNAYE/

      ham delahi me nahi he
      fir bhi he,
      aapse jude he so
      aapke paas he,
      aapki lekhani chalegi
      ham padhhenge
      aour mahasoos karenge ki
      delahi me ham bhi he, ham bhi rahe, ham bhi the,
      hamne bhi bhaag liya,
      filhaal intjaar he
      is karyakram ke safaltapoorvak
      sampanna hone ka.

      उत्तर देंहटाएं
    11. मैं लेट हो गया.
      मिलो, छक के मिलो.
      मौज्जां माणो.

      उत्तर देंहटाएं
    12. कल 11 जनवरी को लगभग 8 बजे सुबह से दिल्‍ली आज तक या आज तक में देखिएगा कुछ ब्‍लॉगरों से बातचीत।

      उत्तर देंहटाएं
    13. अजी अब तो हम भी दिल्ली के हो गए हैं...
      अगली ब्लॉगर मीट में जरूर मिलेंगे...

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz