शुभकामनायें स्‍वीकार करें पर टिप्‍पणी देने में न समय खराब करें (अविनाश वाचस्‍पति)

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels:
  • बटोर लें
    बांट दें
    सभी
    कामनायें
    आनंद देती हैं।


    पोस्‍ट तो लिखें
    पर टिप्‍पणी न दें
    समय बहुत कम है
    आंकड़े देखकर
    रीडरशिप के
    खुश हो लेंगे।

    शुभकामनायें होती हैं
    तभी शुभ जब
    बेरोकटोक पहुंचती हैं।

    पसंद भी न चटकायें
    पोस्‍ट भी न खोलें
    सिर्फ नजर घुमायें
    शुभ हो जायें।

    आपका देखना
    सिर्फ देखना भर
    मन में संतोष
    भर देता है
    टिप्‍पणी न देखकर
    जिसे आये रोष
    वो मैं नहीं
    कोई और होता है ?

    मुझे तो पड़ोसी की
    खुशी में खुशी
    और दुख में दुख
    होता है
    और
    मेरे पड़ोसी के
    बारे में
    पड़ोसी ही जाने।

    अन्‍य ब्‍लॉग पर
    देख टिप्‍पणी
    अपने ब्‍लॉग पर
    होने का सुकून
    मिलता है।

    पर नहीं दे पाता हूं
    टिप्‍पणी जब
    तब मुझे दुख
    जरूर होता है
    पर समय
    मजबूर होता है
    कम होता है
    वैसे पोस्‍ट में तो
    सभी की ही
    खूब दम होता है।

    स्‍वीकार लें
    मेरी शुभकामनायें
    जो आपकी पोस्‍टों पर
    पसंद के तौर पर
    बेपढ़े ही चटकाई
    जा चुकी है।

    12 टिप्‍पणियां:

    1. क्या बात है चाचा जी नये साल में नये नये सलाह दे रहे है जब हमें कोई बात अच्छी लगी तो भला अपनी बात आप तक क्यों ना पहुँचाएँ..हम तो टिप्पणी ज़रूर देंगे जैसा समय मिलेगा....हाँ अभी के टिप्पणी का मतलब है बस यह की आपको भी नये वर्ष की हार्दिक बधाई..

      उत्तर देंहटाएं
    2. लेकिन क्या करे अविनाश जी आदत से मजबूर हैं....अत: टिप्पणी करते रहते हैं....

      आपको तथा आपके परिवार को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं।

      उत्तर देंहटाएं
    3. शुभ कामनाओं में बहुत दम है .
      सभी जगवासियों को नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाएं

      उत्तर देंहटाएं
    4. आदतन...आदत जाती नहीं.


      वर्ष २०१० मे हर माह एक नया हिंदी चिट्ठा किसी नए व्यक्ति से भी शुरू करवाने का संकल्प लें और हिंदी चिट्ठों की संख्या बढ़ाने और विविधता प्रदान करने में योगदान करें।

      - यही हिंदी चिट्ठाजगत और हिन्दी की सच्ची सेवा है।-

      नववर्ष की बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाएँ!

      समीर लाल
      उड़न तश्तरी

      उत्तर देंहटाएं
    5. आपको तथा आपके परिवार को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं।


      www.lekhnee.blogspot.com

      उत्तर देंहटाएं
    6. पकडो जी बात बाद मै करेगें---..आप को ओर आप के परिवार को नववर्ष की बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाए

      उत्तर देंहटाएं
    7. नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाए!!!

      उत्तर देंहटाएं
    8. आपको नव वर्ष 2010 की हार्दिक शुभकामनाएं।

      उत्तर देंहटाएं
    9. खुबसूरत रचना आभार
      नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाएं ................

      उत्तर देंहटाएं
    10. आप और आपके परिवार को नववर्ष की सादर बधाई

      उत्तर देंहटाएं
    11. नये वर्ष की शुभकामनाओं सहित

      आपसे अपेक्षा है कि आप हिन्दी के प्रति अपना मोह नहीं त्यागेंगे और ब्लाग संसार में नित सार्थक लेखन के प्रति सचेत रहेंगे।

      अपने ब्लाग लेखन को विस्तार देने के साथ-साथ नये लोगों को भी ब्लाग लेखन के प्रति जागरूक कर हिन्दी सेवा में अपना योगदान दें।

      आपका लेखन हम सभी को और सार्थकता प्रदान करे, इसी आशा के साथ

      डा0 कुमारेन्द्र सिंह सेंगर

      जय-जय बुन्देलखण्ड

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz