मानस के मोती से जोड़ना वस्‍तुत: आपसे जुड़ना है (अविनाश वाचस्‍पति)

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels:
  • दीपावली वो जो मन की हो
    अच्‍छे विचारों की हो
    सुसंस्‍कारों की हो ।

    आपसे हम जुड़ना चाहते हैं
    आपको खुद से जोड़ना चाहते हैं
    जो जुड़े हुए हैं पहले से
    अहो भाग्‍य हमारा है
    आज नये- नये साथियों ने
    हाथ हमारा थामा है
    तो आप भी थामिए हाथ
    बनिए संबल एक दूसरे का
    भरिए अपना ई मेल और बन जाइये
    दीपावली के पावन पर्व पर
    मानस के मोती की माला का
    एक चमकदार
    खनकदार सीप सा मोती
    मानस के मोती की तुलना
    किसी से नहीँ होती।









    Google Groups

    ईमेल पता भरकर सब्सक्राईब पर क्लिक करें

    Email:


    Visit this group

    7 टिप्‍पणियां:

    1. रोशनी के पर्व दीपावली पर आपको व् आपके परिजनों को हार्दिक शुभकामनाये . आपका भविष्य उज्वल प्रकाशमय हो ..

      उत्तर देंहटाएं
    2. इतने बड़े परिवार का सदस्य होना गर्व की बात है...बढ़िया विचार व्यक्त किया आपने..
      दीवाली की हार्दिक शुभकामनाएँ!!

      उत्तर देंहटाएं
    3. अपुन तो पैलेसेइच्च आपके मानस का एक मोती बन चुका है

      उत्तर देंहटाएं
    4. दीपावली के शुभ अवसर पर आपको और आपके परिवार को शुभकामनाएं

      उत्तर देंहटाएं
    5. * HAPPY DIWALI *
      Dher saare Subhkaamnaye aur Badhai bhi, bahut badhiya vichar hai.

      उत्तर देंहटाएं
    6. झिलमिलाते दीपो की आभा से प्रकाशित , ये दीपावली आप सभी के घर में धन धान्य सुख समृद्धि और इश्वर के अनंत आर्शीवाद लेकर आये. इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ दीपावली की हार्दिक शुभकामनाए.."

      उत्तर देंहटाएं
    7. सपरिवार आपको दिवाली की बहुत-बहुत शुभकामनाएं. शुक्रिया.
      ---
      हिंदी ब्लोग्स में पहली बार Friends With Benefits - रिश्तों की एक नई तान (FWB) [बहस] [उल्टा तीर]

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz