हिन्‍दी समाचार पत्र और व्‍यंग्‍य (अविनाश वाचस्‍पति)

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels:
  • आपसे है निवेदन
    दें सिर्फ इतना धन
    जिससे न करूं मैं
    आपको और तंग।

    धन में मुझे नहीं चाहिए
    गांधी चित्र वाले
    हरे नीले लाल करारे नोट
    पर करें अवश्‍य नोट
    आपके क्षेत्र से हो रहे हैं प्रकाशित
    जो जो हिन्‍दी समाचार पत्र अथवा
    जिनके बारे में जानकारी है आपको।

    उसका और उसके संपादक का नाम
    मोबाइल नंबर, अखबार का धाम और ई मेल पता
    और दे पायें सरलता से यदि उसका लिंक
    अथवा भेज पायें डाक से मुझे एक अंक ।

    यही धन है मेरे लिए अनमोल
    मुझे आपसे यही चाहिए
    जिससे मैं उनमें छप रहे
    व्‍यंग्‍य लेखों और कविताओं को
    पढ़ सकूं और कर सकूं मनन
    जो सूचना देंगे उनको और
    जो नहीं देंगे उनको भी
    मेरा मन से सच्‍चा नमन।

    22 टिप्‍पणियां:

    1. धन के ऊपर ज्ञान को तरजीह , अच्छी लगी

      उत्तर देंहटाएं
    2. kyaa maang liyaa mujh se
      vo meree kahaanee hain
      vo mat maango mujh se
      dil jis pe aayaa hai
      chhodoge use kaise
      ye samajh naayaa hai
      kaagaj ke nhee tukde
      ye dil ke katre hain
      kaise bhejoon tukde
      chalo koshish to hogee
      le jaate to achhaa thaa
      kuchh baaten bhee hongee

      dr ved vyathit

      उत्तर देंहटाएं
    3. प्रयास अवश्य करेंगे।
      विश्वास रखें, निराश न हों!

      उत्तर देंहटाएं
    4. ज़रूर भेजेंगे पहली फुरसत मे ।

      उत्तर देंहटाएं
    5. मेल से भेज दे तो चलेगा क्या?
      अखबार वालों को धमकाओगे तो नहीं?

      उत्तर देंहटाएं
    6. main jahan se hoon wahan ke sare akhbaar ke bare me aapko bhi pata hai haan agar kuch hua naya to sabse pahale aap ko pata hoga...

      उत्तर देंहटाएं
    7. अगर मुझे जानकारी मिली तो अवश्य दूगां ।

      उत्तर देंहटाएं
    8. मैं देहली में हूं . यहां से जितने बडे़ अखबार निकलते हैं उनके बारे में शायद हीकोई न जानता हो । हां यदि कुछ छोटे - छोटे अखबार जो कि क्षेत्रीय स्तर पर निकलते हैं उनकी भी जानकारी आपको चाहिए तो बताइएगा ,मैं उनके नाम पते आदि आपको देने की कोशिश अवश्य करूंगी ।

      उत्तर देंहटाएं
    9. ham bhi denge aapko jaankari
      sahitya me kya kar rahi he ye duniya saari,
      aap bhi jaane ham bhi jaane kyoki
      aapki tarah hame bhi he padhhne ki bimaari.

      उत्तर देंहटाएं
    10. @ शशि सिंहल


      मैं भी दिल्‍ली में हूं

      दिल्‍ली से बाहर के
      दैनिकों की मिल सके जानकारी

      बिना उठाये भारी परेशानी तो

      रहूंगा मैं आपका आभारी।

      उत्तर देंहटाएं
    11. @ उलूक

      चलेगा भी और दौड़ेगा भी
      मेल से भेजें चाहे फीमेल
      या फ्री मेल से।

      उत्तर देंहटाएं
    12. Pune me yaa to angrezee akhbaar prakashit hote hain, yaa Marathee...phirbhee pata karnekee koshish zaroor karungee...! Dainik Bhaskar prakashit ho raha ho to pata nahee...Nagpoorme hota hai...wahan Navbharat times bhee prakashit hota hai..

      उत्तर देंहटाएं
    13. हम तो हमेशा आप के साथ खड़े हैं या कहें हम तो आपके सहारे खड़े हैं।

      उत्तर देंहटाएं
    14. अविनाश जी..आपके पास कॉपी पहुँच जाए तो मुझे भी भिजवा देना...धन्यवाद

      उत्तर देंहटाएं
    15. मांगा भी तो क्या मांगा आपने. अखबारों में जो छ्पता है उससे बेहतर तो ब्लाग्स पर व्यंग है. क्लिक क्लिक करिये.

      उत्तर देंहटाएं
    16. Prominent Newspapers from Kolkata-

      1. Sri H R Pandey, Editor
      Sanmarg, Hindi Daily
      160C, C R Avenue
      Kolkata-700 007

      2. Editor-Prabhat Khabar
      3, Decres Lane
      Kolkata-700 069

      3. Sri Prakash Chandalia
      Editor-Mahanagar, Hindi Evening Daily
      309, B B Ganguly Street
      Kolkata-700 012

      4. Editor-Rajasthan Patrika
      19, Kinderdyne Lane
      2nd floor
      Near Jogahog Bhawan
      Kolkata-700 012

      5. Sri Prakash Agrawal
      Editor-Vishwamitra
      74, Lenin Sarani
      Kolkata=-700 014

      उत्तर देंहटाएं
    17. क्या चक्कर है अविनाश जी...धन और इनकम टैक्स...अर्थशास्त्र
      की फिक्र अभी से...रिटर्न भरने की तारीख तो अभी दूर है...अरे मैं नकद नारायण की नहीं ज्ञान के खजाने की बात कर रहा हूं...


      जय हिंद...

      उत्तर देंहटाएं
    18. Please note

      Newspaper - REPORTER
      Mr Pramod Chouhan
      duration of publication - Weekly
      Place - /Jeevan Park/Janakpuri, New Delhi
      Mob- 9871223027
      Email - reporterbharat@gmail.com

      उत्तर देंहटाएं
    19. gyaandhan bhi to dhan hai !! awashya koshis karenge ! avinashji

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz