मेरे देश की धरती सोना उगले ....... (अविनाश वाचस्‍पति)

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: , ,

  • मेरे देश की धरती सोना उगले गीत की पंक्तियां कानों में पड़ते ही अभिनेता मनोज कुमार की याद आ जाती है जबकि इस गीत के गीतकार गुलशन बावरा थे। वे नहीं रहे पर उनके गीत सदा रहेंगे। उनके गीतों का रहना ही उनका रहना है। गुलशन बावरा जी के खाते में अनेक बेहतरीन नेक गीत शुमार हैं जिनमें खुल्‍लम खुल्‍ला प्‍यार करेंगे हम दोनों, यारी है ईमान मेरा यार मेरी जिंदगी, सनम तेरी कसम, अगर तुम न होते, आती रहेंगी बहारें और जीवन के हर मोड़ पर मिल जाएंगे हमसफर प्रमुख हैं और अभी भी धड़ल्‍ले से सबको मोहित कर लेते हैं। इन गीतों के रचयिता को बावरा उपनाम फिल्‍म वितरक शांतिभाई पटेल ने उनके रंग बिरंगे परिधान पहनने पर दिया था और वे इसी नाम से विख्‍यात हो गए।

    जाना तो सबको है पर इनका जाना जाना नहीं कहा जा सकता। बावरा जी यहीं हैं और यही रहेंगे।

    उनकी इच्‍छा का सम्‍मान करते हुए उनकी देर को दान किया जाएगा इसलिए अंतिम संस्‍कार नहीं होगा। उनकी देह को जे जे अस्‍पताल ले जाया जाएगा। उनके परिवार में उनकी पत्‍नी हैं।

    नुक्‍कड़ की ओर से विनम्र श्रद्धांजलि। विस्‍तृत समाचार यहां पढ़ सकते हैं ...

    17 टिप्‍पणियां:

    1. गीतकार गुलशन बावरा जी को श्रद्धांजलि।

      उत्तर देंहटाएं
    2. इस महान फिल्म गीतकार को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि !

      उत्तर देंहटाएं
    3. इस महान फिल्म गीतकार को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि !

      उत्तर देंहटाएं
    4. देहदान कर सबसे बड़ा कार्य किया है.

      उत्तर देंहटाएं
    5. इस महान फिल्म गीतकार को मेरी भी विनम्र श्रद्धांजलि

      उत्तर देंहटाएं
    6. गुलशन बावरा को हार्दिक श्रद्धांजलि...!!!
      www.nayikalam.blogspot.com

      उत्तर देंहटाएं
    7. मेरे श्रद्घा सुमन अर्पित करती हूँ ...'क़स्मे वादे प्यार वफ़ा , सब बातें हैं ,बातों का क्या ' ये गीत भी उन्हीं का है ..ऐसे अल्फाज़ आजकी रचनाओं में रहे ही नही ..अफ़सोस ...जाने कहाँ खो गए वो लोग ..! जो सुनहरी यादें छोड़ गए ,साथ ही एक गहरा खालीपन...,जिसे कोई भर नही कर सकता ..ये लोग तो हमारे रहनुमा थे...!

      http://kavitasbyshama.blogspot.com

      http://shamasansmaran.blogspot.com

      http://lalitlekh.blogspot.com

      http://aajtakyahantak-thelightbyalonelypath.blogspot.com

      उत्तर देंहटाएं
    8. इस महान फिल्म गीतकार को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि !

      उत्तर देंहटाएं
    9. GULSHAN BAWRA BAHUT BADHIYA GEETKAR
      THE.KALYAN JEE ANAND JEE AUR R.D.
      BURMAN KE LIYE LIKHE UNKE SABHEE
      GEET SUPER HIT RAHE THE.ULLEKHNIY
      FILMEN HAIN---ZANZEER,UPKAAR,KASMEE
      VAADE AUR SATTE PE SATTA ITYADI.
      IS MAHAAN GEETKAAR KAA JAANAA PEEDA
      DAAYAK HAI.ISHWAR UNKEE ATMA KO
      SHANTI PRADAAN KARE,MEREE VINTEE
      HAI.

      उत्तर देंहटाएं
    10. He has fallen in line with saint Dadhichi whose bones were used for makin "Vazraast ".-deh jaati hai geet rahtaa hai -medical science ko aage badhaayengi Gulshan-Baavraa ki asthiyaan ,ang prtyang .veerubhai

      उत्तर देंहटाएं
    11. खूबसूरत गीतों का यह गीतकार कभी नहीं मर सकता ....वे अपने गीतों में हमेशा जिंदा रहेंगे ..

      उत्तर देंहटाएं
    12. We will miss him ever and ever. A great master. May God give his soul peace.
      Love and Avatar Meher Baba Ji Ki Jai
      Chandar Meher
      lifemazedar.blogspot.com

      उत्तर देंहटाएं
    13. ऐसे गीतकार युगों में पैदा होते हैं..और अमर हो जाते हैं..उन्हें हमारी श्रृद्धांजलि

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz