हमारी चाय की चुस्कियों पर टिकी उनकी रोजी-रोटी

Posted on
  • by
  • संजीव शर्मा
  • in
  • असम अपनी कड़क और तन-मन में ऊर्जा का संचार कर देने वाली चाय के लिए मशहूर है. राज्य में चाय बागान बेरोज़गारी को कम करने और राज्य की वित्तीय स्थिति को बेहतर बनाने में भी अहम भूमिका निभा रहे हैं. यहाँ चाय उत्पादन में बराक घाटी के नाम से मशहूर दक्षिण असम की अहम भूमिका है. हाल ही में बराक घाटी में सेहत के अनुकूल पर्पल यानि बैंगनी चाय के उत्पादन की संभावनाए भी नजर आई हैं.ऐतिहासिक रूप से नज़र डाले तो सुरमा घाटी और अब 
    आगे पढ़े:www.jugaali.blogspot.com

    2 टिप्‍पणियां:

    1. आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बुधवार को
      आज प्रियतम जीवनी में आ रहा है; चर्चा मंच 1900
      पर भी है ।
      --
      सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
      --
      हार्दिक शुभकामनाओं के साथ...
      सादर...!

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz