कलम के कारीगर, शब्‍दों के बाजीगर की आज मंगलवार 19 नवम्‍बर 2013 को वैवाहिक सालगिरह है

Posted on
  • by
  • हिन्‍दी ब्‍लॉगर
  • in
  • Labels: , ,
  •  

    मंगलवार 19 नवम्‍बर 2013 तक जारी है सफर
    जिसकी शुरूआत 19 नवम्‍बर 1984 को हुई
    कितने हुए बरस, गणित अभी बाकी है
    गणित की गणना की आप करें बारिश1

    इंटरनेट पर हैं अनेक ठिकाने
    पर नेक ठिकाना एक है
    इसका मतलब यह मत निकालना
    कि बाकी ठिकाने नेक नहीं हैं
    वह नेक भी हैं, अनेक भी हैं
    उन सबसे आप जुड़े हैं
    सामने राहों में हम खड़े हैं।

    कुछ नेक इंटरनेटीय ठिकाने
    सामूहिक हिंदी ब्‍लॉग नुक्‍कड़
    फेसबुक, ट्विटर, पिन्‍टरेस्‍ट
    और खूब सारे हिंदी ब्‍लॉग
    घूमते फिरते हैं अखबारों
    और पत्रिकाओं में भी
    यह सब इंटरनेट का प्रताप है।
    अविनाश वाचस्‍पति
    पिताजी
    बगीची
    तेताला
    छपन छपाई
    नवभारत टाइम्‍स में अविनाश वाचस्‍पति का ब्‍लॉग
    जागरण जंक्‍शन में अविनाश वाचस्‍पति का हिंदी ब्‍लॉग
    शब्‍द विमर्श


    इस ताप में बहुत भाप है
    भाप में पॉवर है
    पॉवर शक्ति है
    यह शक्ति शब्‍दों की
    सच्‍ची भक्ति है
    इसी से इनकी
    अनुरक्ति है
    असीम स्‍नेह है
    जीवन नेकता की अनेकता में
    जीना तय है
    जीना छोटा है या लंबा
    उसे पसंद आता है यही बंदा।

    एक दिन चलाएगा कोई
    इस जीने पर
    इसे काटने के लिए रंदा।

    रंदे की क्‍यों करें चिंता
    रंदे पर करते हैं चिंतन
    मनन और मंथन
    पर पहले बतलाएं
    सालगिरह की सही संख्‍या1





     

    11 टिप्‍पणियां:

    1. मंगल मंगल कामना, वैवाहिक-त्यौहार |
      हार गले में डालिये, करो हार-स्वीकार |

      करो हार-स्वीकार, जीतओ रविकर भाभी |
      चले गृहस्थी-कार, भरे नित भाभी चाभी |

      स्वस्थ,सुखी परिवार, इक-दूजे के सम्बल |
      पुत्र पुत्रियां पौत्र, सर्वदा मंगल मंगल ||

      उत्तर देंहटाएं
      उत्तर
      1. मंगल मंगल कामना, वैवाहिक-त्यौहार |
        हार गले में डालिये, करो हार-स्वीकार |
        करो हार-स्वीकार, जीताओ रविकर भाभी |
        चले गृहस्थी-कार, भरे नित भाभी चाभी |
        स्वस्थ,सुखी परिवार, इक-दूजे के सम्बल |
        पुत्र पुत्रियां पौत्र, सर्वदा मंगल मंगल ||

        हटाएं
      2. मंगल मंगल कामना, वैवाहिक-त्यौहार |
        हार गले में डालिये, करो हार-स्वीकार |

        करो हार-स्वीकार, जिताओ रविकर भाभी |
        चले गृहस्थी-कार, भरे नित भाभी चाभी |

        स्वस्थ,सुखी परिवार, परस्पर सुदृढ़ सम्बल |
        पुत्र पुत्रियां पौत्र, सर्वदा मंगल मंगल ||

        हटाएं
    2. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।। त्वरित टिप्पणियों का ब्लॉग ॥

      उत्तर देंहटाएं
    3. वैवाहिक वर्षगाँठ पर हार्दिक शुभकामनाएँ।

      उत्तर देंहटाएं
    4. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति बुधवारीयचर्चा मंच पर ।।

      उत्तर देंहटाएं
    5. कारीगर को बहुत बहुत बधाई
      जरूर हमें भी मिलेगी कुछ मिठाई
      मनाते रहें इसी तरह सालो साल सालगिरह शादी की
      करते रहें बाजीगरी कलम की तलवार बाजी की !

      उत्तर देंहटाएं
    6. जीवन की सबसे महत्वपूर्ण अवसर की सालगिरह पर हमारी हार्दिक शुभकामनाएं ! बस ऐसे ही जीवन के पथ पर हंसी ख़ुशी और समृद्धि के साथ चलते रहें।

      उत्तर देंहटाएं
    7. वैवाहिक वर्षगाँठ पर हार्दिक शुभकामनाएँ।

      उत्तर देंहटाएं
    8. मुबारक हो तुमको स्वीट नाइनटीन विवाह -साल,ये लेखन खुशहाल।

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz