कहाँ मित्र अविनाश, स्वास्थ्य कैसा है भाई ?

Posted on
  • by
  • रविकर
  • in
  • Labels:
  • सीधा सरल उपाय, भीग छतरी में आधा-

    मुनव्वर राना की शायरी और हम लोग !

    संतोष त्रिवेदी
    बैसवारी baiswari 
    राय बरेली का जमा, दिल्ली में जो रंग |
    जमी मुनौव्वर शायरी, एन डी टी वी दंग |


    एन डी टी वी दंग, अजी संतोष त्रिवेदी |
    आया किसके संग,  इंटरी किसने दे दी |


    कहाँ मित्र अविनाश, स्वास्थ्य कैसा है भाई ?
    श्रेष्ठ कलम का दास, स्वस्थ हो, बजे बधाई ||

    4 टिप्‍पणियां:

    1. मन का स्‍वास्‍थ्‍य टिचाटिच है
      तन का थोड़ा किचकिच है रवि भाई।

      उत्तर देंहटाएं
    2. शुभकामनायें अविनाश भाई ||


      गमछे वाले ने सटा, रखी पीठ पिस्तौल |
      बिगड़ा बिगड़ा लग रहा, फोटो में माहौल |

      फोटो में माहौल, मुनौवर भाई ताके |
      कोई तो बचाय, जरा जल्दी से आके |

      लेगा फोटू खींच, हमारा दुष्ट भतीजा |
      पांडुलिपी कब्जाय, बहुत है हमसे खीजा ||

      उत्तर देंहटाएं
    3. अविनाशी है वो सदा,रविकर नित्य नवीन ,
      तिरवेदी संतोष है,इन दोनों में लीन !

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz