बता दो आज की तुम्हारे अन्दर कितनी ताकत है ...

Posted on
  • by
  • Dev Ojha
  • in
  • 4 टिप्‍पणियां:

    1. कुछ अनुभूतियाँ इतनी गहन होती है कि उनके लिए शब्द कम ही होते हैं !

      उत्तर देंहटाएं
    2. Shanti Garg ji,सुमित प्रताप सिंह ji..बहुत बहुत धन्यवाद

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz