हिन्‍दी चिट्ठाकार को बनाया फेसबुक ने फिल्‍म का हीरो

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: , , ,
  • पढ़ लीजिए अच्‍छी तरह
    आपके लिए भी
    खुल रहे हैं अवसर

    फिल्‍म आएगी 2012 में
    तब आप बनेंगे दर्शक
    उसके बाद

    आपके लिए भी
    खुलेंगे नेक मौके

    पर रहना सावधान
    पर राह में धोखे भी हैं

    पर यह सच्‍चाई का प्रतीक है
    चिट्ठाकार प्रतीक है

    मेरा आशीर्वाद है
    खूब सफलता पाएं

    हिंदी चिट्ठाकारिता का नाम चमकाएं।

    8 टिप्‍पणियां:

    1. राह में धोखे बहुत है ....सही कहा है जी आपने ......प्रतीक को ढेरो मुबारकवाद

      उत्तर देंहटाएं
    2. आपकी प्रवि्ष्टी की चर्चा कल बुधवार के चर्चा मंच पर भी की जा रही है!
      यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल उद्देश्य से दी जा रही है!

      उत्तर देंहटाएं
    3. इस खबर से किसी निष्‍कर्ष पर पहुँचना जल्‍दबाजी होगी, मगर इतना तो तय है कि ब्‍लॉगिंग एक अलग पहचान बनाने का जरिया अवश्‍य बन गई है।

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz