ब्‍लॉगिंग को निरंकुश किया जाएगा लेकिन इंटरनेट पर लगाई जायेगी रोक

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: ,
  • अभी अभी विश्‍वस्‍त होली सूत्रों से मालूम हुआ है कि भारत में इंटरनेट पर रोक लगा दी जाएगी और हिन्‍दी ब्‍लॉगिंग को खुला छोड़ दिया जाएगा।

    इसके क्‍या असर शब्‍दों के सफर पर पड़ेगा, 

    विचारों की कल्‍पना पर होगा, 


    रचना पर होगा, 


    संरचना पर होगा


    गरिमा पर होगा


    प्रतिष्‍ठा पर होगा


    इस पर अपने अपने विचार अभी जाहिर करेंगे तो बेहतर ... 

    वरना तो भंग की तरंग से बाहर आ जायेंगे। फिर इन विमर्शों का कोई औचित्‍य नहीं रह पाएगा। 


    इन विमर्शों को अपनी भागीदारी कर जीवंतता प्रदान करें।

    5 टिप्‍पणियां:

    1. नहीं सफ़र तो अनवरत जारी रहेगा,और नए नए विचारों का जनम होगा,
      वैसे भी नेट तो बस एक माध्यम है
      असल में तो शब्दों का सफ़र तो सपनो के साथ चलता रहेगा .....
      हाँ कुछ सपनो के पंख अलग हो जायेंगे ....

      होली की शुभकामनाएं ..

      नव वर्ष की शुरुआत पर नयी शुरुआत हो हिंदी के सफ़र की..:):)

      उत्तर देंहटाएं
    2. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
      प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
      कल (21-3-2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
      देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
      अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

      http://charchamanch.blogspot.com/

      उत्तर देंहटाएं
    3. होली की हार्दिक शुभकामनायें ...

      उत्तर देंहटाएं
    4. होली की हार्दिक शुभकामनायें ..

      उत्तर देंहटाएं
    5. यह सफ़र तो अनवरत रूप से जारी रहेगा

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz