क्या यहाँ पहले से एम्बुलेंस नही होनी चाहिए थी ....................

Posted on
  • by
  • Anil Attri
  • in

  • क्या यहाँ पहले से एम्बुलेंस नही होनी चाहिए थी ....................


    बुधवार दोपहर बाद सेंटर दिल्ली के कनाट प्लेस इलाके मैं बिल्डिंग का एक हिस्सा गिर जाने से सात लोग घायल हो गये .....घायल मजदूरों को RML अस्पताल मैं भर्ती कराया गया हैं ...दरअसल आज कनाट प्लेस इलाके के KG कर्जन रोड पर पुरानी इमारतों के गिराने का काम जारी था ...यहाँ कई विभागों के अलग अलग ऑफिस थे ..ये सब जरजर थे ..इनसे साफ था की कभी भी हादसा हो सकता हैं ..इसी डर से इन्हें गिराया जा रहा था ..गिराते वक्त कोई सावधानी नही बरती गई............................ बिना अच्छे सुरक्षा उपकरणों के ये बिल्डिंग गिराने का काम हो रहा था कि अचानक एक बड़ा हिसा दीवार का इन मजदूरों पर गिरा और घायल कर दिया ..इन्हें RML मैं भर्ती कराया गया हैं ...यहाँ इमारत गिराने वाले विभागों कि एकदम लापरवाही हें ..इन लोगों ने इतनी खरनाक इमारत गिराते वक्त पहले से एम्बुलेंस क्यों नही खड़ी कि ..यहाँ मजदूर घटना के बाद पड़े तडफ रहे थे जिन्हें दूसरे लोग व मीडिया कि गाड़ियां अस्पताल लेकर भागी ..एम्बुलेंस आई तब तक ये लोग अस्पताल पहुंच चुके थे

    6 टिप्‍पणियां:

    1. भयानक हादसा था. बेचारे घायलों को मीडिया और दूसरे लोगों ने अपनी गाड़ियों में अस्पताल पहुंचा कर मानवीय संवेदनशीलता का परिचय दिया, लेकिन जिन लोगों पर ऐसे नाज़ुक समय में सुरक्षा और एम्बुलेंस आदि की अग्रिम व्यवस्था करने की जिम्मेदारी थी , वे सब उस वक्त कहाँ थे और क्या कर रहे थे ?

      उत्तर देंहटाएं
    2. मजदूर अस्पताल पहुँच गये यही उनका भाग्य है की वहा कुछ संवेदनशील लोग थे वरना गरीबो के लिए सरकार हो या आम लोग कोई भी परवाह नहीं करता है |

      उत्तर देंहटाएं
    3. एम्बुलेंस नही जी सेफ़टी के इंतजाम होने चाहिये थे,

      उत्तर देंहटाएं
    4. क्या कहें बदहाली का…………इंसान की ज़िन्दगी की कीमत ही क्या रह गयी है जो फ़िक्र की जाती।

      उत्तर देंहटाएं
    5. hamare yaha jan ki keemat aadami ke status ke anusar hoti hai....gareebon ki sefty ki parvah na ke barabar hoti hai....is hadase se sabak seekha jana chahiye.

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz