क्‍या मेरी टाटा इंडिका कार आज मुझे टाटा करने के मूड में थी

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: , ,
  • मेरी क्‍या गलती है
    आज शाम को सीरी फोर्ट स्थित अपने कार्यालय से घर वापसी पर कमला नेहरू कॉलेज की लाल बत्‍ती से दांये मुड़ते ही मेरी चर्चित टाटा इंडिका जीएलजी डी एल 3 सी ए वाई 5018 कार के बोनट से धुंआ निकला शुरू हो गया। गाड़ी रोक कर, बोनट खोलकर देखा, तो अंदर जहां पर सेल्‍फ होता है, वहां पर वायरिंग में आग लगी हुई थी, जिसे मैंने तुरंत बुझा दिया। शुक्रवार का दिन होने के कारण शुक्र यह रहा कि सेंट्रल लॉकिंग ने काम करना बंद नहीं किया। अन्‍यथा अपनी सीट के साथ रखे लकड़ी के मजबूत मोटे डण्‍डे से शीशा तोड़कर बाहर निकलना पड़ता। तिराहा होने के कारण भीड़ लगी परंतु जल्‍दी ही छंट भी गई क्‍योंकि धुंआ अधिक था, आग कम और हवा में रबड़ की जलन की गंध फैल गई। टाटा मोटर्स के सान्‍या ऑटोमोबाइल्‍स सर्विस सेंटर, ओखला में फोन करने पर बतलाया गया कि हेल्‍पलाईन सेवा कल मिल पाएगी। तब तक इंतजार करें। आफिस फोन करके चार साथियों को बुलाया और धकेल कर वापिस सीरी फोर्ट सभागार के गेट नंबर 1 की पार्किंग में पहुंचाया। कार वहीं पर टाटा सर्विस सेंटर के कारिन्‍दों का इंतजार कर रही है। वे कल ही आयेंगे, यह मैंने कार को नहीं बतलाया है।

    16 टिप्‍पणियां:

    1. भगवान का शुक्र है कि सेंट्रल लॉकिंग ने काम करना बंद नहीं किया , बधाई !

      उत्तर देंहटाएं
    2. ईश्‍वर का लाख लाख शुक्र है .. सबकुछ सामान्‍य रहा !!

      उत्तर देंहटाएं
    3. सुरक्षित बच निकलने पर परमात्मा का शुक्रिया

      उत्तर देंहटाएं
    4. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

      उत्तर देंहटाएं
    5. आज कल ऎसे केस भारत मे बहुत हो रहे हे, कही कोई कमी हे इन कारो मे, सब से पहले आप फ़्युज सिस्टम को चेक करे, ज्यादा तर्ह लोग बडा फ़्युज लगा देते हे, जिस से फ़ुय्ज नही उडता उलटा वायर जलने लग जाती हे,एक बडा कारण ओर हे जो आप को पहले से वार्निंग दे देता हे, उस बारे फ़िर, लेकिन जब फ़्युज सिस्टम सही होगा तो कार मे आग लगने के चांस बहुत कम हे

      उत्तर देंहटाएं
    6. दुर्घटना टल गयी ...कार को बताइयेगा भी नहीं ..

      उत्तर देंहटाएं
    7. टाटा मोटर्स के अधिकृत सर्विस सेंटर सान्‍या ऑटोमोबाइल्‍स की हेल्‍पलाईन गाड़ी की मरम्‍मत जारी है, उसकी मरम्‍मत होने के बाद ही वो अविनाश वाचस्‍पति की इंडिका कार को खींचकर सर्विस सेंटर पहुंचा पाएगी। वो आज भी ठीक हो सकती है और सोमवार को भी। जैसे ही वो ठीक होगी उसके स्‍वास्‍थ्‍य की सूचना राकेश जी मुझे मेरे मोबाइल पर देंगे, कार को अभी तक कुछ नहीं मालूम है कि वो इस बीमार घायल अवस्‍था में कब तक रहेगी, बेचारी बोर हो रही होगी।

      उत्तर देंहटाएं
    8. दीपावली की शुभकामनाएं। जान बची तो लाखों पाएं।

      उत्तर देंहटाएं
    9. सान्‍या मोटर्स की हैल्‍पलाईन सर्विस की सुमो ठीक होगई है और इंतजार कर रही मेरी कार को सर्विस सेंटर ओखला में ले गई है। वैसे टाटा मोटर्स को मेरी सलाह है कि वे खराब गाडि़यां ले जाने के लिए क्रेन लाया करें। इनसे गाडि़यां ले जाना टो करके ले जाने से अच्‍छा रहता है। वहां से शाम को फोन भी आ चुका है उनके तकनीशियन का कहना है गाड़ी का सेल्‍फ जल गया है। शुक्र है कि गाड़ी का सेल्‍फ जला, वो न जलता तो यह सेल्‍फ कैसे बच पाता। खैर अगला अपडेट अब सोमवार को। कल तो सर्विस सेंटर बंद है।

      उत्तर देंहटाएं
    10. चलिए कोई बात नहीं ....जान बची तो लाखो पाए .... गाडी भी २ -३ दिन में ठीक हो कर वापस आ ही जाएगी !

      उत्तर देंहटाएं
    11. ऐसी कार -बेकार सेवा को तो हम ब्लागर्स इन बिग बॉस में लेने से रहे ...

      उत्तर देंहटाएं
    12. दोबारा विचार कर लीजिए अरविंद भाई। हो सकता है यह बेनामी ब्‍लॉगरों के निपटाने के काम आए। या हो सकता है इस बेकार सेवा से दो चार करोड़ का कोई फंड कारनामे के तौर पर टाटा से प्रायोजन हासिल हो जाए।

      उत्तर देंहटाएं
    13. Ye experience milna baki tha, so mil gaya.

      shukar hai aap delhi se Yamunanagar nahi aa rahe the vo bhee vaya indri.

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz