कोई इलाज हो तो बताइये बन्धु

Posted on
  • by
  • Dr. Subhash Rai
  • in
  • हे मित्र, सुनिये, आप से ही कह रहा हूं. साखी पर टिप्पड़ी की समस्या आ रही है. टिप्पड़ी बाक्स  कई बार टिप्पड़ी लेता नहीं है. कई मित्रों ने कहा है, कई लोग परेशान होकर लौट जाते हैं, कई मित्र मुझसे कहते हैं पर मैं इस मामले में बड़ा नादान हूं . क्या करूं समझ में नहीं आता. आप के पास कोई इलाज हो तो बताइये न.

    13 टिप्‍पणियां:

    1. यह तो वास्‍तव में बहुत ही गंभीर समस्‍या है लेकिन अगर हम गंभीर हो जायेंगे तो हल नहीं निकल पायेगा। वैसे एक उपाय है कि आप रोजाना 101 नए ब्‍लॉगों की पोस्‍टों पर 101 टिप्‍पणियों का दान करें। मुझे विश्‍वास है कि गूगल बाबा या ब्‍लॉगस्‍पॉट देवता आपके इस पवित्र कार्य से अवश्‍य ही प्रसन्‍न होंगे और उनकी कृपा से आपकी समस्‍या हल हो जाएगी। अब मैं हंसूंगा नहीं, नहीं तो आप सचमुच में मजाक समझ लेंगे। जो बंधु इस उपाय से सहमत हों वे यहां पर अवश्‍य ही अपनी टिप्‍पणी छोड़ें। समस्‍या की गंभीरता से इसका कोई संबंध नहीं है। उपाय बतलाने और करने वालों का भी सहर्ष स्‍वागत है।

      उत्तर देंहटाएं
    2. टिप्पड़ी ?
      टिप्पणी ले लेगा असल में वो टिप्पड़ी नहीं लेता

      उत्तर देंहटाएं
    3. आप रोजाना 101 नए ब्‍लॉगों की पोस्‍टों पर 101 टिप्‍पणियों का दान करें। मुझे विश्‍वास है कि गूगल बाबा या ब्‍लॉगस्‍पॉट देवता आपके इस पवित्र कार्य से अवश्‍य ही प्रसन्‍न होंगे और उनकी कृपा से आपकी समस्‍या हल हो जाएगी।

      Aap is upay ko karege to avashya hi kary siddh hoga:) To shuru ho jaiye......

      उत्तर देंहटाएं
    4. मै तो कर रहा हूँ टिप्पणी ..कोई समस्या नहीं !!! !

      उत्तर देंहटाएं
    5. डा. साहब ...कोई दिक्कत नहीं हुई मुझे |

      ....मैं तो वहां तीन टिप्पणी करके मिटा भी आया हूँ ......और चौथी अब करने जा रहा पढ़कर !!! हूँ ...पोस्ट पढ़ कर |

      उत्तर देंहटाएं
    6. lalit sharma ne jo sujhav diya hai, us par dhyan de.sub theek ho jayega..

      उत्तर देंहटाएं
    7. ललित जी, समीर जी, गिरीश भाई सही कह रहे हैं. मैं भी ऐसा ही मह्सूस कर रहा हूं पर वो लोग कह रहे हैं कि वो टिप्पणी (क़्यों बिल्लोरे जी अब तो ठीक है न?)नहीं ले रहा. अविनाश जी का उपाय बड़ी साधना की मांग करता है. फिर भी देखता हूं.

      उत्तर देंहटाएं
    8. प्रवीण जी से बात हो गयी है, काम बन जायेगा.

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz