झगडा नहीं क्रिएटिव टेंशन

Posted on
  • by
  • Dr. Subhash Rai
  • in
  • Labels:
  • वीरेंद्र सेंगर की कलम से


    केंद्र सरकार के कई मंत्रियों के बीच टकराहट बढ़ी है। मंत्रियों की इस कार्यशैली से पीएमओ खुश नहीं हैं। यह जरूर है कि वह हस्तक्षेप तभी करता है, जब बात काफी बढ़ जाती है और सरकार की फजीहत शुरू हो जाती है। टकराहट का ताजा मामला कमलनाथ और मोंटेक सिंह आहलूवालिया के बीच का है। कई मंत्रियों की पिछले महीनों में आयोग में जमकर खिंचाई हो चुकी है। आयोग के इस आक्रामक रवैये से कमलनाथ खासे नाराज हुए हैं। इसी नाराजगी में उन्होंने हाईप्रोफाइल मोंटेक की खबर ले ली थी। कह दिया था कि एसी कमरे में बैठकर योजनाएं बनाना अलग बात है, लेकिन जमीन पर सड़कें बनाना दूसरी बात है। पूरा पढ़ें बात-बेबात पर

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz