दिल्ली ब्लागर मिलन : जलज़ला भी आया

Posted on
  • by
  • M VERMA
  • in
  • Labels:
  • दिल्ली ब्लागर सम्मेलन

    बहुत ही सुकून

    और सौहार्दपूर्ण वातावरण में

    सम्पन्न हुआ,

    जलज़ला भी आया

    पर वह नहीं जो आप सोच रहे हो

    मुझे पता है आप

    क्या जानने को आतुर हो

    अपने बाल नोच रहे हो.

    जलज़ला  विचारों का आया

    जलज़ला  सदभाव का आया

    जलज़ला  मुस्कराहटों का आया

    जलज़ला  नई आहटों का आया

    अब तक पेट दर्द कर रहा है

    वहाँ जो कुछ खाया

    image

    सम्भल नहीं रहा है

    वहाँ से जो स्नेह

    और प्यार लाया.

    कुछ अन्य मुद्दों पर भी बात हुई

    उसकी चर्चा कोई और करेगा

    अविनाश जी शादी में गये हैं

    कौन कौन आया बता सकता हूँ

    जो नहीं पहुँच पाये उनको

    इस तरह तो सता ही सकता हूँ

    जो नहीं आये थे

    उनका नाम लिख नहीं सकता,

    नाम लिख रहा हूँ जो आये थे

    जो स्नेह प्यार और नई आशा

    की चाशनी में डुबाकर समोसा खाये थे

     

    जो आये थे उनमें अपना नाम ढूढ़ ले :

    जय कुमार झा, रतन सिंह शेखावत, एम वर्मा, राजीव तनेजा, संगीता पुरी, विनोद कुमार पाण्डे, बागी चाचा, पी के शर्मा, ललित शर्मा, अमर ज्योति, अविनाश वाचस्पति, संजू तनेजा, मानिक तनेजा, मयंक सक्सेना, नीरज जाट, अंतर साहिल, मयंक, आशुतोष मेहता, शाहनवाज़ सिद्दिकी, राहुल राय, डाँ वेद व्यथित, राजीव रंजन प्रसाद, अजय यादव, अभिषेक सागर, डाँ प्रवीन चोपड़ा, प्रतिभा कुशवाहा, प्रवीण कुमार शुक्ला, खुशदीप सहगल, इरफान खान, योगेश कुमार गुलाटी, उमाशंकर मिश्रा, सुलभ जायसवाल, चंडीदत्त शुक्ल, राम बाबू सिंह, अजय कुमार झा, देवेन्द्र गर्ग, घनश्याम बघेला, सुधीर कुमार

    image

    18 टिप्‍पणियां:

    1. बढ़िया जी बढ़िया.. :)

      उत्तर देंहटाएं
    2. बहुत अच्छा लगा था ऐसे सब लोगों से मिलना....हम सब का आपसी प्रेम ही इसके सफल होने की गारंटी देता है....सचित्र प्रस्तुति आभार..

      उत्तर देंहटाएं
    3. ये जलजला कायम रहे.

      प्रस्तुति के लिए आपका शुक्रिया

      उत्तर देंहटाएं
    4. राजीव तनेजा जी ने सहृदय सभी ब्लोगर्स का स्वागत किया. सबसे पहले मैं उन्हें बधाई देना चाहूँगा.

      उत्तर देंहटाएं
    5. बधाई,सचित्र प्रस्तुति,अच्छा लगा...!

      उत्तर देंहटाएं
    6. बहुत ही सुन्दर चित्र और प्रस्तुति..विस्तृत विवरण का इंतज़ार है

      उत्तर देंहटाएं
    7. निश्चित रूप से इस बैठक ने भविष्य के लिए खडी की जाने वाली एक बुलंद ईमारत की नींव रख दी है । और यकीनन आने वाले समय में हम इससे एक मुकाम हासिल कर सकेंगे

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz