कहानीकार सावधान : ग्‍यारह हजार रुपये पाने के इच्‍छुक ही पढ़ें

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels:

  • प्रेमचंद स्‍मृति कथा सम्‍मान का आयोजन बांदा की शबरी संस्‍था द्वारा चतुर्थ प्रेमचंद कथा स्‍मृति कथा सम्‍मान हेतु कहानी संग्रह ......... पूरा पढ़ने के लिए इमेज पर चटका लगाएं। अपना कहानी संग्रह तो भेजें परंतु किसी और कहानीकार को न बतलायें। इनाम पाने के लिए ऐसा करना बहुत जरूरी है। संभावनाएं तभी बढ़ेंगी परंतु 50 वर्ष से अधिक के युवा कहानीकार इसे नहीं पढ़ेंगे तो भी चलेगा परन्‍तु 50 वर्ष की आयु से कम के युवा अवश्‍य पढ़ें और अपना कहानी संग्रह प्रकाशित कराने के जुगाड़ में व्‍यस्‍त हो जाएं। तीन बरस बाद फिर मौका मिलेगा। सभी को शुभकामनाएं।

    यह भी बतलाएं कि यह विज्ञापन किस पत्रिका के किस अंक में और किस पेज पर प्रकाशित हुआ है।

    4 टिप्‍पणियां:

    1. ये तो बहुत बढ़िया समाचार है....आजमाना पड़ेगा....समाचार के लिए धन्यवाद

      उत्तर देंहटाएं
    2. लेखन प्रेमचंद की परम्परा से है इसका प्रमाणपत्र किस दफ्तर में मिलेगा?

      उत्तर देंहटाएं
    3. कहानीकारों को शुभकामनाएं. जाएं, जीतें और आकर बताएं.

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz