मुझे खड़े करके इंसान ने क्यूं जलाया है - रावण

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: , , ,


  • जलते जलते मुझे यूं ख्याल आया है
    कि मुझे खड़े करके इंसान ने क्यूं जलाया है
    या समझ रहा इंसान है
    कि जिंदा हूं मैं राम के बिना
    जबकि राम ने मुझे मारा है
    जमाना जानता है सारा
    और मानता भी है
    या जी रहा है मुगालते में भारी
    रावण जिंदा को बांध कर लाया है
    इसलिए खड़ा करके जलाया है





    बना रहा है
    बेच रहा है
    पुतले मेरे
    जला रहा है
    जला जा रहा है


    सोच लगती है
    सच इंसान की
    इसलिए वो जलाकर मुझे
    घर पहुंचकर नहीं नहाया है
    वैसे उसने मुझे शमशान में नहीं जलाया है
    इसलिए भी लगता नहीं नहाया है
    वैसे न मेरी हड्डियां अस्थियां बटोरने आएगा
    करेगा नहीं तेरहवीं मेरी कोई
    न क्रिया, न हरिद्वार में अस्थि विसर्जन
    तो न नहाकर उसने किया तो लगता ठीक है

    वैसे उस राम के होने पर भी
    सवाल इंसान ने ही उठाया है
    पर फिर भी मुझे जलाने में
    इंसान को लुत्फ बहुत आया है
    मेरा तमाशा खूब बनाया है

    लेकिन मैं भी ढीठ हूं बहुत
    जलूंगा नहीं अभी मैं
    जलूंगा नहीं कभी मैं

    रावण हूं रावण रहूंगा
    ब्लू लाईन के चालकों के भेष
    में राजधानी में रहूंगा मैं
    तू नहीं नहाएगा तो
    श्रीलंका नहीं मैं जाऊंगा ?

    10 टिप्‍पणियां:

    1. लगता है अविनाश भाई, रावण से मिलकर चर्चा करके आ रहे हैं इसलिए नई नई बातें बतला रहे हैं। लगता नहीं है कि कल्पना के घोड़े दौड़ा रहे हैं, पुतलों से मनचाहा उगलवा रहे हैं।

      उत्तर देंहटाएं
    2. Bahoot achhe Avinash Bhai .... Blue line bason ki halat hum sabhi jaante hai .... Aapne unse ravan ki tulna bahoot achhi ki hai

      उत्तर देंहटाएं
    3. आपके इस नये दृष्टीकोण के लिये बधाई । इतिहास हमेशी विजेता लिखते हैं । तो वह विजेताओं के पहलू को ही उजागर करता है । आपने दूसरे पहलू पर रोशनी डाल कर आँखें खोल दीं । रावण के बारे में जानने के लिये रावण सीरीयल देखना जाहिये पर मुझसे बहुत ही कम बार ऐसा हो पाता है । ब्लू लाइन बसों के ड्राइवर तो दैत्यों की ही श्रुंखला में आते हैं ।

      उत्तर देंहटाएं
    4. हम अपने अंदर के रावण को कब मार पायेगे.. हर साल इसे जला डालते है लेकिन फिर से जिंदा हो उठता है ये रावण. अविनाश जी रावण पर आपका ये नज़रिया प्रभावशाली दृष्टिकोण रखता है..

      उत्तर देंहटाएं
    5. सुन्दर बात अविनाश जी
      प्रणाम

      उत्तर देंहटाएं
    6. Ravan shrilanka kahan se jayega jab bharat me hi usaki itani kadr hai log use kitana chahane lage hai..har jagah ravan ghum raha hai aur log usake jaisa bankar paap badha rahe hai..bhala wah kyon jaye??

      badhiya darshaya aapne ravan ke man ki baaten..dhanywaad..badhayi!!

      उत्तर देंहटाएं
    7. रावण के सवालों का जवाब ढूंढ़ना ही होगा .....

      उत्तर देंहटाएं
    8. राम लीला [दिल्ली]मैदान में आज रावण [ कुम्भकरण +मेघनाद से पहले] जल उठा सोनियाजी ने केवलधनुष उठाया ही था [२]दूसरी रामलीला मैंरावन के लिए रिमोट का प्रयोग किया गया [३] लखनऊ में लोकल बस में रावन shows that ravan himself is willing to die early but are we willing to kill our own ravan ?
      Yesterday at 19:16 · Comment · Like / Unlike

      उत्तर देंहटाएं
    9. राम लीला [दिल्ली]मैदान में आज रावण [ कुम्भकरण +मेघनाद से पहले] जल उठा सोनियाजी ने केवलधनुष उठाया ही था [२]दूसरी रामलीला मैंरावन के लिए रिमोट का प्रयोग किया गया [३] लखनऊ में लोकल बस में रावन shows that ravan himself is willing to die early but are we willing to kill our own ravan ?
      ·

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz