तीसमारखां की तीसवीं वैवाहिक सालगिरह के कतिपय पारिवारिक समारोह के चित्र - 19 मई 2014

Posted on
  • by
  • नुक्‍कड़
  • in
  • Labels: , ,






  • 6 टिप्‍पणियां:

    1. बधायी हो।
      --
      आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल सोमवार (15-12-2014) को "कोहरे की खुशबू में उसकी भी खुशबू" (चर्चा-1828) पर भी होगी।
      --
      हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
      सादर...!
      डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

      उत्तर देंहटाएं
    2. अरे वाह जियो ।
      ढेर सारी बधाइयाँ सारे परिवार को । अगले बीस साल बाद फिर देंगे पचासवीं सालगिरह पर तब तक जमा करते रहें मिठाइयाँ :)

      उत्तर देंहटाएं
    3. बहुत-बहुत बधाई - पचासवीं के लिए हमारी अग्रिम शुभकामनाएं (सँभाल कर रखे रहिए)!

      उत्तर देंहटाएं
    4. बहुत-बहुत बधाई...आपको एवम् आपके पूरे परिवार को...

      उत्तर देंहटाएं
    5. बहुत खूब रंग जमाया है ...
      बहुत बहुत हार्दिक बधाई!

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz