देश को रोशन करने के लिए मोमबत्तियां जलाने 2 अक्‍टूबर 12 की शाम को 6 बजे इंडिया गेट पहुंचें

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: , ,
  • मोमबत्तियां जलाएंगे
    घर पर नहीं
    इंडिया गेट जाएंगे
    चलें चाहें हवाएं
    हमें तो मोमबत्‍ती जलानी है

    बिना बिजली के
    रोशनी लानी है
    रोशनी जिससे डरकर
    भ्रष्‍टाचार छिप जाए

    रोशनी जिससे डरकर
    नहीं खिंचकर आते हैं
    परवाने
    मच्‍छर
    किंतु नहीं आता
    भ्रष्‍टाचार

    कोशिश तो करें
    शायद मोमबत्‍ती की लौ में
    भ्रष्‍टाचार जल मरे

    काला धन आए
    खिचंकर लौ से
    और काला हो जाए
    सरलता से पहचाना जाए

    यह नहीं भी हो पाएगा
    तब मन का कालापन
    तो मिटने का सबब बनेगा
    एक सबक बनेगा

    तो आइए
    मोमबत्‍ती जलाइए
    अपने घर पर तो
    रोज जलाते हैं
    आज के दिन
    इंडिया गेट पर
    जलाने आइए।

    1 टिप्पणी:

    1. अपने घर पर तो
      रोज जलाते हैं
      आज के दिन
      इंडिया गेट पर
      जलाने आइए।

      बहुत खूब, किसी न किसी को मोमबत्ती जलानी ही पडेगी,,,

      RECECNT POST: हम देख न सके,,,

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz