पीएम ने कहा और अन्‍ना ने अनशन तोड़ दिया (व्‍यंग्‍य कविता)

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: , ,
  • पी एम भी हैं प्रसन्‍न

    अन्‍ना भी हैं खुश
    तोड़ने वाले हैं अनशन

    पी एम ने बतलाया है
    अभी अभी उनका संदेश
    मेरे मोबाइल पर आया है

    संदेश में लिखा है
    कंप्‍यूटर प्रत्‍येक मर्ज की दवा है

    टाइप करो CORRUPTION
    कर्सर को वहीं मटकने दो
    कंट्रोल प्‍लस ए दबाओ
    फिर तुरंत डी दबाओ
    कंट्रोल पर से 
    न ऊंगली हटाओ 
    देखना हुआ न चमत्‍कार
    डिलीट हो गया 
    सारा भ्रष्‍टाचार

    लेकिन इतनी जल्‍दी
    मत खुश हो अन्‍ना
    अभी रिसाइकिल में
    जाकर बीन बजानी है
    वहां से एम्‍पटी जगह 
    तुरंत खाली करानी है

    उसके बाद न रहेगा भ्रष्‍टाचार
    न मिलेगा  करप्‍शन
    चाहे करना सर्च
    चाहे करना फाइंड
    कितना ही लगाना माइंड

    देखा मिट गया करप्‍शन
    तोड़ दो अन्‍ना अपना अनशन

    खाओ भरपेट राशन
    अब मैं झाडूंगा भाषण
    अगर नहीं आता कंप्‍यूटर चलाना
    तो सीखकर आओ अन्‍ना, क्‍यों
    इकट्ठा कर लिया है जमाना

    जाओ अन्‍ना कंप्‍यूटर सीख कर आओ
    यूं ही मत विश्‍वभर में कोहराम मचाओ
    जाओ अन्‍ना कंप्‍यूटर सीख कर आओ

    सारे विश्‍व का भ्रष्‍टाचार खुद अकेले मिटाओ
    और सच कह रहा हं कि खूब ख्‍याति पाओ।

    5 टिप्‍पणियां:

    1. और अन्ना !
      सरकार को झुकाने का फार्मूला वाली किताब भी पढ़ लेना....
      क्योंकि वह झुकती है,
      केवल आतंकवादियों के सामने,
      अनशनकारियों और जनता के आगे नहीं !

      उत्तर देंहटाएं
    2. क्या बात है.
      यदि मीडिया और ब्लॉग जगत में अन्ना हजारे के समाचारों की एकरसता से ऊब गए हों तो मन को झकझोरने वाले मौलिक, विचारोत्तेजक आलेख हेतु पढ़ें
      अन्ना हजारे के बहाने ...... आत्म मंथन http://sachin-why-bharat-ratna.blogspot.com/2011/08/blog-post_24.html

      उत्तर देंहटाएं
    3. मस्त एकदम। कित्ता आसान है करप्शन को मिटाना, फ़िर बाद में रिस्टोर भी करने की सुविधा।

      उत्तर देंहटाएं
    4. ढूंढो और डिलीट करो बस इत्ती सी बात ।

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz