आओ एक भारत रत्‍न डॉ. आर के अग्रवाल को दिलाने की मुहिम चलाएं

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: , ,

  • और यह हैं वे दो बोतलें जो दवाईयां मुझे पीने की सलाह सिर्फ 1000 रुपये और दवाईयों की कीमत 5600 रुपये में दी गईं। हेपिटाइटिस सी जैसे कुख्‍यात रोग जिसकी दवाईयां तलाशने में अभी पूरा विश्‍व जुटा हुआ है। डॉक्‍टर साहब इतने सस्‍ते में देकर मानवता की सेवा कर रहे हैं। अगर इन दवाईयों के सेवन में मेरे शरीर में रिएक्‍शन हुआ है तो वो मेरे शरीर की गलती है न कि डॉक्‍टर साहब की बनाई-बेची गई दवाईयां इसके लिए दोषी हैं। आखिर वे रोजाना टीवी चैनलों पर अपने साक्षात्‍कार में जिन दवाईयों और चिकित्‍सा का प्रचार कर रहे हैं वो गलत कैसे हो सकता है। 

    इस बिल से यह स्‍पष्‍ट है कि इसे कंप्‍यूटर पर बनाया गया है और डॉक्‍टर साहब झोलाछाप नहीं हैं क्‍योंकि झोले में कोई कंप्‍यूटर नहीं रखता है। इस से यह भी पुष्टि होती है कि जो राशि ली गई है, वो हेपिटाइटिस सी की कन्‍सल्‍टेशन और दवाईयों के एवज में ली गई राशि है। मतलब इतना सस्‍ता इलाज। 

    वैसे आजकल भारत रत्‍न दिए जाने की चर्चा जोरों पर है तो क्‍यों नहीं देश भर के वे हजारों मरीज जो डॉक्‍टर साहब की चिकित्‍सा से स्‍वस्‍थ हुए हैं क्‍यों नहीं उन्‍हें भारत रत्‍न दिए जाने की मुहिम चलाते। यह उन मरीजों का कर्तव्‍य भी बनता है कि देशहित को ध्‍यान में रखते हुए इस प्रकार का मिशन चलाएं।

    यह एक गंभीर पोस्‍ट है और इसमें दी गई जानकारी पूरी तरह तथ्‍यात्‍मक है इसलिए इस पर सुधिजन विचार करें।


    20 टिप्‍पणियां:

    1. kyaa kyaa ho rahaa haen yahan
      jankari bantnae kae liyae thanks

      उत्तर देंहटाएं
    2. जानकारी तो दी जा रही है रचना जी
      परंतु सोच विचार कर अपने जोखिम पर ही इसका इस्‍तेमाल कीजिएगा
      मैंने तो जोखिम मोल ले ही लिया है
      अब सोच रहा हूं डॉक्‍टर साहब को भारत रत्‍न तो दिलवा ही दूं

      उत्तर देंहटाएं
    3. डॉक्‍टर साहब को तो मिलना ही चाहिये, साथ ही साथ समाचारपत्र को भी कुछ ..........................​..

      उत्तर देंहटाएं
    4. मुझे तो इसकी डिग्री ही समझ नहीं आ रही। आप कहाँ से फ़ंस गए इनमें। इस तरह की झांसे देने वाली दुकाने शहर गाँव के हर नुक्कड़ पर मिल जाएगीं। अच्छा किया आपने जो इसे नुक्कड़ पर चेप दिया।

      फ़र्जी डॉक्टरों से बच के रहना चाहिए। बिना किसी मान्य डिग्री के ही लोग डॉक्टर पदनाम का उपयोग धड़ल्ले से करते हैं और मरीज का धन हरण करने के साथ मौका पाते ही चीर हरण भी करने लग जाते हैं।

      चेताने के लिए आभार

      उत्तर देंहटाएं
    5. हे भगवबान! आप भी कहां कहां चले रहते हो.

      उत्तर देंहटाएं
    6. आप भी कहाँ कहाँ चले जाते हैं सर.....अब ये लैपटॉप और पोर्टेबल प्रिंटर का ज़माना है....ये झोले में भी आ जाता है... :)

      उत्तर देंहटाएं
    7. आश्चर्य हुआ कि आप इनके चक्कर में कैसे आ गये...अब कायदे से इलाज कराईये...स्वास्थय के साथ कोई चांस न लें, प्लीज!!

      उत्तर देंहटाएं
    8. आपने तो पूरा स्टिंग ऑपरेशन ही कर डाला:)
      way4host

      उत्तर देंहटाएं
    9. koi nahi,desh abhi tak ek hi anna ko jaanta hai,iski pol kholkar aap doosre anna ban jayenge.aise dhongiyon ki kaargujari sabke saamne aani chahiye ! use yah customer bada mahnga padnevala hai !

      उत्तर देंहटाएं
    10. अविनाश जी जब यही दवाई संसद हमको पिलाती है तब आवाज न निकलेगी क्योंकि हमे लगता है यह तो मुफ़्त है

      उत्तर देंहटाएं
    11. अविनाशजी उर्फ अन्नाजी निश्चय ही आपने दुस्साहस का परिचय दिया है।
      क्या हम कोई मुहिम चला कर हर शहर, हर गाँव-कस्बे में जनचेतना अभियान चला सकें तो ऐसे पाखंडियों का पर्दाफाश करने में मदद मिल सकती है। वैसे तो मीडिया क्रांति के बाद इस प्रकार के ठगों की असलियत को बखूबी प्रचारित किया जा सकता है। छोटे समाचार पत्रों को तो अपने अस्तित्व के लिए हर तरह के विज्ञापन लेने पड़ते हैं, किंतु जब राष्ट्रीय स्तर के समाचार पत्रों में इस प्रकार के भ्रामक उपचारों, यौन सामग्रियों और नवप्रचलित ‘डेटिंग’, दिए गए नंबरों पर बात करके जीवन का परम सुख पाने, आदि के विज्ञापन देखने को मिलते हैं तो अखबार को फेंकते हुए मन खिन्न हो जाता है।

      उत्तर देंहटाएं
    12. भरी पड़ी है दुनिया यहाँ एक डाक्टर शर्तिया लड़का होने की दवाई देता था

      उत्तर देंहटाएं
    13. इन झोलाछाप डॉक्टर महोदय की शिकायत स्वास्थ्य विभाग से कीजिये और इनकी इन जादुयी शीशियों की शिकायत ड्रग इंसपैक्टर या ऐसे किसी सक्षम अधिकारी से करिये। वे इनको पद्मश्री और भारत रत्न दोनों दे देंगे।

      वैसे हम भी हैंरान हैं कि आप इनके चक्कर में कैसे आ गये।

      उत्तर देंहटाएं
    14. Dr sahab Hepatitis-C is a self limiting disease .Traditional treatments - no fat ,no proteins ,only carbohydrates ,reddish juice ,fresh bacteria free cane sugar juice ,rest ..However the survival rates post sixty is only 7 per thousands .I lost my mother due to this ailment when she was 67.

      उत्तर देंहटाएं
    15. नीम हकीम ख़तरा -ए -जान ,अच्छा व्यंग्य ,हमारे सभी सांसदों को भी उनके नेक काम के लिए यह भारत रत्न दिया जाना चाहिए जो तिहाड़ जाने की योग्यता से लैस हैं .वीरुभाई कृपया यहाँ भी पधारें .Super food :Beetroots are known to enhance physical strength,say cheers to Beet root juice.Experts suggests that consuming this humble juice could help people enjoy a more active life .(Source: Bombay Times ,Variety).

      http://kabirakhadabazarmein.blogspot.com/2011/08/blog-post_07.html
      ताउम्र एक्टिव लाइफ के लिए बलसंवर्धक चुकंदर .
      http://veerubhai1947.blogspot.com/
      शुक्रवार, ५ अगस्त २०११
      Erectile dysfunction? Try losing weight Health

      उत्तर देंहटाएं
    16. मेरी आपबीती क्‍या यहीं पर नहीं रूक सकती कि और किसी के साथ कभी ऐसा न हो। इसके लिए लिंक में दी गई पोस्‍ट को अपने ब्‍लॉग/वेबसाइट/पत्र एवं पत्रिका में प्रकाशित कर मुझे हौसला प्रदान कीजिए

      इन फर्जी डॉक्‍टरों से समाज को मुक्ति कैसे मिलेगी

      उत्तर देंहटाएं
    17. इन फर्जी डॉक्टर्स का धंधा इसीलिए चल रहा है अविनाश जी क्योंकि न सिर्फ पढ़े लिखे जागरूक , ब्लोगर , पत्रकार , साहित्कार , फ़िल्मकार आदि इनमे विश्वास दिखाते हैं , बल्कि टी वी के ५-६ चैनल्स भी उनको टाइम स्लोट देकर जनता को गुमराह करने में अपना भरपूर योगदान दे रहे हैं ।

      डॉक्टर न होते हुए भी इतना तो वीरुभाई ने भी सही लिखा है । हिपेटाईटिस एक वाइरल इन्फेक्शन है जो आराम करने से अपने आप ठीक हो जाता है । खाने पीने में ज़रूर ध्यान रखना पड़ता है । इसके लिए कोई दवा नहीं होती ।
      अफ़सोस आपने ५-६००० रूपये बर्बाद कर डाले ।
      हैरान हूँ कि आप इसके पास कैसे पहुँच गए ।
      या फिर खाली स्टिंग ऑपरेशन ही था ?

      उत्तर देंहटाएं
    18. एक नीम-हकीम देश की राजधानी में खुलेआम अपना जाल फैलाए है,प्रशासनजी गहरी नींद में हैं !

      उत्तर देंहटाएं
    19. यह ई मेल संदेश आप सबकी जानकारी के लिए पेश है :

      bk gupta via nic.in to jtcp-nr-dl, me

      show details 12:26 PM (4 hours ago)

      from bk gupta bk.gupta@nic.in via nic.in
      to Avinash Vachaspati
      cc jtcp-nr-dl
      date Fri, Aug 12, 2011 at 12:26 PM
      subject Re: एक शिकायत : क्‍या यह डॉक्‍टर असली हैं
      mailed-by nic.in
      Important mainly because it was sent directly to you.

      hide details 12:26 PM (4 hours ago)


      Dear Citizen,

      Thanks for your E-mail. Your E-mail has been acknowledged by Commissioner of Police, Delhi and the same has been referred to the Joint Commissioner of Police/Northern Range for further necessary action and your reference No.is 7674/E-mail dated 08/08/2011. You may contact him on telephone No. 23490010 Extn 4278 and his e-mail ID is jtcp-nr-dl@nic.in.

      jtcp-nr-dl@nic.in

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz