बाबाओं को भगवान बनाता हिंदी मीडिया !!

Posted on
  • by
  • पुष्कर पुष्प
  • in
  • बाबाओं को भगवान बनाता हिंदी मीडिया !!: "अगर आप प्राइम टाइम पर खबर देखने बैठते हैं तो जाहिर है कि देश और दुनिया की गंभीर विषयों पर खबर के साथ चर्चा के अभिलाषी होते हैं मगर हाय रे हमारी हिंदी मीडिया जो वक्त बेवक्त या तो यह साबित करती है कि हिंदी के मीडिया की औकात क्या है या फिर हिंदी के पाठक और दर्शक को बताती और जताती रहती है कि जो दिखा रहा हूँ वही तुम्हारी औकात है.

    - Sent using Google Toolbar"

    2 टिप्‍पणियां:

    1. जनता भी मुर्ख हे जो इन बाबाओ को भगवान मानती हे, जब भगवान ने दिमाग दिया हे तो उस से सोचती क्यो नही?

      उत्तर देंहटाएं
    2. पुष्कर भाई और राज भाटिया जी,
      माना कि वो बाबा भगवान नहीं था मगर काम तो उसने सारे भगवान टाइप किये थे। कभी सत्य साईं सेवा समिति के कार्यक्रमों और भजनों मे शिरकत की होती तो आप लोगों का ये नजरिया ना होता। देखिये ना कितने तरह के लोगों का एक अनुशासित परिवार बना गया वो। उसके खुद के परिवार वाले भले झगड़ते रहें लेकिन ये तय है कि उसके भक्तगण या फ़ोलोअर कहिये, वे आपस में झगड़ने वाले नहीं। नमस्कार।

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz