कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स की ओपनिंग की पूर्व संध्‍या पर जनसत्‍ता कहता है कि अविनाश वाचस्‍पति ने ...

http://www.srijangatha.com/Vyangya1-24Sep_2k10
खेल और खिलवाड़

आपका क्‍या विचार है
चल रहे हैं ओपनिंग में
वैसे पैसे खत्‍म हो चुके हैं
खेल शुरू पैसे हजम।

2 टिप्‍पणियां:

  1. अविनाश जी, आज नैतिक मूल्यों में काफी गिरावट आ चुकी है। हम इन स्वार्थी लोगों से ज्यादा अपेक्षा नहीं रख सकते।

    उत्तर देंहटाएं
  2. अच्छा विवेचन।

    प्रमोद ताम्बट
    भोपाल
    www.vyangya.blog.co.in
    http://vyangyalok.blogspot.com
    व्यंग्य और व्यंग्यलोक
    On Facebook

    उत्तर देंहटाएं

आपके आने के लिए धन्यवाद
लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

 
Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz