जो हल निकाला तो सिफर निकले

Posted on
  • by
  • Padm Singh
  • in

  • [Edit]

    clip_image001

    रात कब बीते कब सहर निकले

    इसी सवाल में उमर निकले


    तमाम उम्र धडकनों का हिसाब

    जो हल निकाला तो सिफर निकले


    बद्दुआ दुश्मनों को दूँ जब भी

    रब करे सारी बेअसर निकले


    हर किसी को रही अपनी ही तलाश

    जहाँ गए जिधर जिधर निकले


    हमीं काज़ी थे और गवाही भी

    फिर भी इल्ज़ाम मेरे सर निकले


    किसी कमज़र्फ की दौलत शोहरत

    यूँ लगे चींटियों को पर निकले


    उजले कपड़ों की जिल्द में अक्सर

    अदब-ओ-तहजीब मुख्तसर निकले

    ….आपका पद्म ..06/09/2010

    8 टिप्‍पणियां:

    1. बद्दुआ दुश्मनों को दूँ जब भी
      रब करे सारी बेअसर निकले
      बहुत ही लाजबाब पंक्तियाँ, बहुत सुन्दर रचना ! उपरोक्त शेर में व्यक्त भाव मैं भी अक्सर भगवान् से यही दुआ करता फिरता हूँ !

      उत्तर देंहटाएं
    2. बद्दुआ दुश्मनों को दूँ जब भी
      रब करे सारी बेअसर निकले
      वाह बहुत अच्छी दुआ! बहुत पसंद आई।
      देसिल बयना-खाने को लाई नहीं, मुँह पोछने को मिठाई!, “मनोज” पर, ... रोचक, मज़ेदार,...!

      उत्तर देंहटाएं
    3. क्या खूब लिखा है ,
      रात कब बीते कब सहर निकले
      इसी सवाल में उमर निकले
      तमाम उम्र धडकनों का हिसाब
      जो हल निकाला तो सिफर निकले

      उत्तर देंहटाएं
    4. हमीं काज़ी थे और गवाही भी
      फिर भी इल्ज़ाम मेरे सर निकले
      वाह जी वाह. क्या बात है

      उत्तर देंहटाएं
    5. रात कब बीते कब सहर निकले
      इसी सवाल में उमर निकले

      तमाम उम्र धडकनों का हिसाब
      जो हल निकाला तो सिफर निकले


      बद्दुआ दुश्मनों को दूँ जब भी
      रब करे सारी बेअसर निकले

      यूँ तो पूरी गज़ल ही बेमिसाल है………………।मगर इन शेरों कि तो बात ही और है।

      उत्तर देंहटाएं
    6. बहुत खूब ! हर शेर असरदार है।

      उत्तर देंहटाएं
    7. तमाम उम्र धडकनों का हिसाब
      जो हल निकाला तो सिफर निकले

      बद्दुआ दुश्मनों को दूँ जब भी
      रब करे सारी बेअसर निकले

      Bahut khoob!

      उत्तर देंहटाएं
    8. हमीं काज़ी थे और गवाही भी
      फिर भी इल्ज़ाम मेरे सर निकले
      बहुत खूब।

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz