ब्‍लॉग से नहीं, पर ब्‍लॉग के रास्‍ते कमाई : एक रास्‍ता इधर भी है (अविनाश वाचस्‍पति)


पंकज शुक्‍ल
क्‍या कहा नहीं जानते ?
तो पहचानिए
जो कह रहे हैं
जरूर मानिए
pankajshuklaa@gmail.कॉम
लिखिए ई मेल बेझिझक
और फटाफट लिख भेजिए

अगर आप बच्‍चे हैं
बच्‍चे न भी हों
पर मन के सच्‍चे जरूर हो
तो यह मौका आपके लिए है

आपको लिखनी है एक पटकथा
पर समय अधिक नहीं है बचा
वैसे तो पूरा सप्‍ताह है
पूरा ब्‍लॉग जगत गवाह है

पसंद आ गई
मन को भा गई
तो फिर होगी वाह वाह

वैसे नकद नारायण भी मौजूद हैं
11 हजार का कम नहीं वजूद है
पर बच्‍चा बनना होगा
मानसिकता को समझना ही नहीं
जो लिखेंगे उसमें उकेरना होगा

मैं बीच में से हटता हूं
जल्‍दी से करिए ई मेल
पंकज शुक्‍ल जी से मांगिए
एक प्‍लॉट (भूमि) जमीन नहीं
आप तो पूरे ही बच्‍चे बन गए
प्‍लॉट मतलब घूमेगी
किस मुद्दे के इर्द गिर्द पटकथा
फिर आपको कलम घुमानी होगी

ई मेल से ही भिजवानी होगी
जल्‍दी लिखिए समय कम है
क्‍योंकि फिर गर्मी अधिक हो जाएगी
गर्मी में कलम भी नहीं पकड़ी जाएगी
पंखा चलायेंगे तो हवा में उड़ जाएगी

2 मई 2010 वैसे तो दूर है
एक सप्‍ताह कम नहीं होता हुजूर है
पटकथा लिखना तो लेखन का
हीरा-ए-कोहिनूर है

पंकज जी पहले तो
एक प्‍लॉट मुझे भिजवाइये
मैं उस पर पटकथा रूपी बनाता हूं मकान
फिर आप उसे आसमान पर चढ़ाइयेगा
पर रूकिए पहले लिखने तो दीजिए

इंतजार है
पूरे एक सप्‍ताह की ले लेंगे छु्ट्टी
ब्‍लॉग जगत से
नहीं करेंगे टिप्‍पणी
नहीं लगायेंगे पोस्‍ट
पर पटकथा लिखने में
अपनी सारी कलम की स्‍याही
खर्च कर देंगे
रातों को जागेंगे
दिन में सो लेंगे।

13 टिप्‍पणियां:

  1. शुक्रिया अविनाश भाई। प्लॉट आपको मेल से भेजता हूं।

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुंदर अविनाश जी, लेकिन अपून कोप तो कविता आती नही जी

    उत्तर देंहटाएं
  3. अविनाशजी , इतनी अच्छी जानकारी के लिए शुक्रिया । एक प्लॉट मुझे भी भेजने की सिफारिश कर दीजिए पंकजजी से ।

    उत्तर देंहटाएं
  4. आप सभी सुधी पाठकों को प्रणाम और अभिवादन। कृपया पटकथा के लिए कथा सार चाहने वाले इच्छुक साथी मेरी मेल आईडी pankajshuklaa@gmail.com पर इस आशय का मेल भेज दें। मेरे सहयोगी इसकी व्यवस्था कर देंगे। सादर।

    उत्तर देंहटाएं
  5. सब जल्‍दी से अपने लिए प्‍लॉट मंगवा लें। अभी खूब जमीन है।

    उत्तर देंहटाएं
  6. एक प्‍लॉट मुझे भी भिजवाइए पंकज जी। मेरी मेल आई डी है pawanchandan@gmail.com

    उत्तर देंहटाएं
  7. अभी तक कहाँ छुपे हुए थे प्रभु |अब लगे हाथ अब प्लाट भी बता दीजिये जिस पर पायलेट सबमिट किया जानाहे|

    उत्तर देंहटाएं
  8. आप सभी का हार्दिक आभार। लेकिन, तकनीकी वजहों के चलते प्लॉट केवल लौटती मेल की तरह भेजा जा सकता है। कृपया अन्यथा ना लें। इच्छुक साथी मेरी मेल आईडी pankajshuklaa@gmail.com पर इस आशय का मेल ज़रूर भेज दें।

    उत्तर देंहटाएं
  9. andaz nirala hai
    par jo plot ka rakhwala hai
    wah plot kya rakhnewala hai
    kis vidha ki ho lekhani
    unhe kude me to nahi fenkani
    thoda vistar mein batlaiye
    jara ek do example to dikhayie

    उत्तर देंहटाएं
  10. ...देख के भाई सरकारी जमीन पर प्लाटिंग शुरु मत करवा देना !!!

    उत्तर देंहटाएं
  11. काश! कविता लिखना सायास सम्‍भव हो पाता। अब तो दूसरों की सफलता पर तालियॉं बजाने का पुण्‍य काम ही कर सकते हैं।

    उत्तर देंहटाएं

आपके आने के लिए धन्यवाद
लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

 
Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz