ब्रिटेन की क‍वयित्री अरुणा सब्‍बरवाल के काव्‍य संग्रह और कहानी संग्रह सांसों की सरगम और कहा अनकहा का लोकार्पण (अविनाश वाचस्‍पति)

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: ,
  • लोकार्पण
    श्रीमती अरुणा सब्बरवाल
    (कहानीकार एवं कवयित्री, ब्रिटेन)
    के काव्य संग्रह और कहानी संग्रह
    सांसों की सरगम और कहा अनकहा
    स्थान : साहित्य अकादमी सभागार,
    तृतीय तल, मण्डी हाउस, नई दिल्ली
    दिनांक 10 मार्च 2010 को
    समय : शाम 6.00 बजे
    (कार्यक्रम से पूर्व चाय- 5.30 बजे से)

    सान्निध्य :

    श्री महीप सिंह, वरिष्ठ साहित्यकार;
    प्रो. रवि चतुर्वेदी, प्रसिद्ध क्रिकेट कमेंटेटर;
    श्री शेरजंग गर्ग, कवि एवं व्यंग्यकार,
    श्रीमती कुसुमवीर, श्री राकेश पांडेय,
    प्रो. नवीन लोहनी एवं
    आप सब ।

    आयोजक :
    गीतांजलि बहुभाषी साहित्यिक समुदाय
    (ब्रिटेन एवं भारत); और संस्‍कृति यू.के.

    जैसा कि ई मेल से भेजा है :-
    राकेश दुबे,
    सहायक निदेशक, सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, नई दिल्‍ली
    फोन 9968895522

    2 टिप्‍पणियां:

    1. सूचना देने के लिए, धन्यवाद... !

      उत्तर देंहटाएं
    2. कवयित्री अरुणा सब्बरवाल को उनके काव्य संग्रह और कहानी संग्रह के लोर्कापण पर हार्दिक बधाई!

      डा० डंडा लखनवी

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz