-ग़ज़ल

Posted on
  • by
  • Kajal Kumar
  • in
  • My Photoimage

    8 टिप्‍पणियां:

    1. काजल जी..
      बहुत बढ़िया ग़ज़ल ....बधाई!!!

      उत्तर देंहटाएं
    2. काजल कुमार जी!
      इस सुन्दर गज़ल के लिए आपका आभार!

      उत्तर देंहटाएं
    3. कार्टून के का में जल मिला कर
      कार्टून बनाते हैं
      अब बातें बना रहे हैं
      जिनसे सबको लुभा रहे हैं
      गजल का ग हटा दिया
      अब वहां भी का लगा लिया
      काजल ने गजल में भी
      अपना सिक्‍का चला दिया
      कार्टूनिस्‍ट गजलकार ?
      अभी आप इस जल का
      और भी जलजला देखेंगे
      जल मिलने लगा है चांद पर
      अब काजल को क्‍यों रोकेंगे।

      उत्तर देंहटाएं
    4. कार्टून और गजल दोनों में आप कमाल करते है। बधाई।
      -Zakir Ali ‘Rajnish’
      { Secretary-TSALIIM & SBAI }

      उत्तर देंहटाएं
    5. वाह.. काजल जी बहुआयामी हैं..
      हैपी ब्लॉगिंग

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz